विज्ञान - टेक्नोलॉजी

भारतीय अंतरराष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव में प्रतिभाग करेंगे नन्दौर के बिपिन जायसवाल

300 युवा वैज्ञानिक भाग लेंगे इस कार्यक्रम में , 5 अक्टूबर से 8 अक्टूबर तक आयोजित होगा कार्यक्रम

गोरखपुर. भारतीय अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव चौथे संस्करण में विश्व के हजारों वैज्ञानिक के सम्मेलन में बिपिन जायसवाल का नाम भी युवा वैज्ञानिक विद्वान के रूप में चयन हुआ है। बिपिन जायसवाल अपने प्रोजेक्ट “मोबाइल डोर सिस्टम” एवं नवीनतम अन्वेष “इलेक्ट्रिसिटी ब्राडकास्टिंग” के माध्यम से काफी चर्चा में रहे।

मूल रूप से संतकबीर नगर के मेंहदावल तहसील के नन्दौर गांव निवासी बिपिन ने हाई स्कूल और इंटर की पढाई एमजी इंटर कालेज से की और इसके बाद यूपीटीयू से 2013 में इलेक्ट्रानिक्स और कम्यूनिकेशंस से बीटेक किया.

बिपिन को राष्ट्रीय -अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी अपने प्रोजेक्ट की प्रस्तुति पर सराहना मिल चुकी है.  उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी उन्हें सम्मानित कर चुके हैं । साइंस इन्क्लेव में भी उन्हें सराहना मिली.

अक्टूबर माह में आयोजित हो रहे भारतीय अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव में सम्मानित एवं प्रोत्साहित करने हेतु दुनिया भर के वैज्ञानिकों से उनके द्वारा किए गए अन्वेष / खोज के बारे में एक संक्षिप्त विवरण मांगा गया था । बिपिन ने अपने खोज के बारे में संक्षिप्त विवरण (सिनॉप्सिस ) चयन समिति को भेजा था। जहां चयन समिति के द्वारा मॉडल चयनित कर महोत्सव हेतु बुलावा भेजा है । उक्त महोत्सव का उद्घाटन भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा किया जाएगा। उक्त सम्मेलन में वैज्ञानिक प्रतिभा सम्मान के साथ साथ समाज से जुड़ी समस्याओं के वैज्ञानिक निराकरण के बारे में विस्तृत चर्चा की जायेगी।

 

Leave a Comment