जीएनल स्पेशल

जीएनल स्पेशल

इंसेफेलाइटिस के 64 फीसदी से अधिक केस सिर्फ चार जिलों -गोरखपुर,देवरिया, कुशीनगर और महराजगंज से

व्यापक टीकाकारण के बावजूद जापानी इंसेफेलाइटिस के रोगियों की संख्या नहीं हो रही कम गोरखपुर। गोरखपुर मंडल के चार जिले इंसेफेलाइटिस (जेई/एईएस) से सबसे अधिक प्रभावित हैं। बीआरडी मेडिकल कालेज गोरखपुर में...

Read More
जीएनल स्पेशल

डाक टिकटों का दुर्लभ और नायाब संग्रह है रफी के पास

अशफाक अहमद गोरखपुर. एक नई खोज की तलाश और जीवन में कुछ नया करने की उत्सुकता कुछ लोगों में जुनून के हद तक पायी जाती है और अपने इस जुनून को पूरा करने के लिए अपने...

जीएनल स्पेशल

इंसेफेलाइटिस से मौतों में ‘ चमत्कारिक ’ कमी का सच क्या है ?

  गोरखपुर. उत्तर प्रदेश और बीआरडी मेडिकल कालेज में इंसेफेलाइटिस (एईएस /जेई) से मौतों में ‘ भारी ’, ‘ चमत्कारिक ’ कमी का का दावा विवादों के घेरे में आ गया...

जीएनल स्पेशल

भाई मिसवाहुद्दीन वारसी : पुराने लोग, पुरानी यादें

रवि राय पुराने लोग कभी कभी काफी अरसे के बाद जब कहीं मिल जाते हैं, तबियत प्रसन्न हो जाती है . तमाम पुरानी बातें याद आ जाती हैं. अभी दस दिन पहले भाई मिसवाहुद्दीन...

जीएनल स्पेशल स्मृति

यादों के झरोखों से रवींद्र सिंह

( गोरखपुर  व लखनऊ छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष और पूर्व विधायक रवींद्र सिंह की 39 वीं पुण्यतिथि पर  उन्हें याद कर रहे हैं कथाकार रवि राय ) बात करीब 40 साल पहले...