Templates by BIGtheme NET
Home » जीएनल स्पेशल (page 10)

जीएनल स्पेशल

काले धन को सफेद करने मे जुटे बड़े व्यापारी, सोना 50 हजार तो 90 से100₹ मे बिक रहा डालर

logo_gorakhpur-news-line-2

आम आदमी बैंकों पर लाइन में खड़ा , काला धन वाले सराफा बाजार और विदेशी मुद्रा कारोबारियों के शरण में  विनोद शाही गोरखपुर, 11 नवम्बर। मोदी सरकार की 1000-500₹ की नोटब॔दी के फैसले के चलते बाजार मे भूचाल आ गया है। आम आदमी अपनी रोजमर्रा जरूरत पूरी करने के लिए गुरूवार और शुक्रवार को बैंक पर लाइनों मे खड़ा था। ...

Read More »

‘ द बेस्ट आफ माई नालेज ……..द लेक्चरर लिस्टेड अंडर जनरल कैटेगरी आर सीनियर देन एससी ओबीसी कैटेगरी ’

20_04_2016-ddugu_g_200416

दीदउ गोरखपुर विश्वविद्यालय के कुलपति की टिप्पणी विवादों के घेरे में, जातीय पूर्वाग्रह का आरोप गोरखपुर, 29 अक्टूबर। दी द उ गोरखपुर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो अशोक कुमार द्वारा इतिहास विभाग के अध्यक्ष पद के लिए नियुक्ति का फैसला लेते हुए वरिष्ठता क्रम के निर्धारण के सम्बन्ध में की गई एक टिप्पणी पर जबर्दस्त विवाद खड़ा हो गया है। उन ...

Read More »

राष्ट्रीय सेक्युलर मंच ने धार दंगे की रिपोर्ट जारी की

img_20161028_120948_hdr

भोपाल, 28 अक्टूबर। राष्ट्रीय सेक्यूलर मंच के चार सदस्यी टीम द्वारा धार जिले के दंगा प्रभावित क्षेत्र पीपल्या का 26 अक्टूबर  को भ्रमण किया गया। टीम ने पीपल्या व गंधवानी के दंगा पीड़ितों और प्रत्यक्षदर्शियों से बात की और प्रभावित घटना स्थलों का मुआयना किया गया। टीम ने आज अपनी रिपोर्ट जारी करते हुए पीड़ितों को सहायता व सुरक्षा देने ...

Read More »

चीनी वैक्सीन जापानी इंसेफेलाइटिस से बचा रहा लाखों बच्चों की जान

बी आर डी मेडिकल कालेज में भर्ती जापानी इन्सेफेलाइटिस मरीज

-एक दशक में करोड़ों बच्चों को लगाया गया है चीन निर्मित जापानी इंसेफेलाइटिस का वैक्सीन -वर्ष 2013 से हर वर्ष 11 करोड़ बच्चों को दी जा रही जेई वैक्सीन -भारत ने भी बनाया देसी वैक्सीन लेकिन आत्मनिर्भर होने पर लगेगा समय मनोज कुमार सिंह  गोरखपुर, 25 अक्टूबर। देशभक्ति के नाम पर चीन निर्मित वस्तुओं के बहिष्कार का अभियान चला रहे ...

Read More »

सौ साल से निकल रही फसाहत की साड़नी देखी है आपने

8528c540-7f0d-4f81-9822-c9ce19d080c2

सैयद फरहान अहमद गोरखपुर, 11 अक्तूबर। मुहर्रम पर सोने-चांदी, गेहूं, शीशा, काठ, लकड़ी की ताजिया, मियां साहब इमामबाड़ा, शाही जुलूस के लिए यह शहर मशहूर हैं। इसके साथ ही एक ऐसी चीज भी जो सालों से जुलूसों की आन, बान, शान बनी हुई हैं जिसे फसाहत की साड़नी के नाम से जाना जाता हैं। नौंवी व दसवीं मुहर्रम के जुलूस में ...

Read More »

गांधी जी का इसी टी स्टाल पर हुआ था स्वागत, तभी से नाम हो गया गांधी मुस्लिम होटल

gandhi-muslim-hotal

गोरखपुर के वीर अब्दुल हमीद रोड पर है गांधी मुस्लिम होटल 8 फरवरी 1921 को  बहरामपुर जाते वक्त चंद पल यहाँ ठहरे थे गांधी जी सैयद फरहन अहमद   गोरखपुर, 2 अक्तूबर। महात्मा गांधी के नाम पर रोड, स्मारक, पार्क, स्टेडियम आदि सुना व देखा होगा लेकिन गांधी जी के नाम पर मुस्लिम होटल, ना देखा ना सुना होगा। जी ...

Read More »

दो से तीन गुना कम वेतन पर कार्य कर रहे हैं इंसेफेलाइटिस वार्ड के नर्स व कर्मचारी

encephalitis-ward-ki-narshen

-वार्ड संख्या 12 और नए इंसेफेलाइटिस वार्ड के नर्सों को मिलता है सिर्फ 16500 रूपए जबकि नियमित स्टाफ नर्स पाती हैं 38 से 60 हजार -तृतीय श्रेणी कर्मचारी सिर्फ सात हजार और चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी आठ हजार रूपए वेतन पर कार्य करने को मजबूर -वार्ड संख्या 14 में कार्यरत नर्स व कर्मचारियों को इनसे मिलता है दोगुना वेतन -मुख्य सचिव ...

Read More »

भगत सिंह और अम्बेडकर के सपनों का भारत बनाने के संकल्प के साथ हज़ारों छात्रों-नौजवानों का दिल्ली में मार्च

aisa-rya-march

सब के लिए बेहतर व सस्ती शिक्षा और सम्मानजनक रोजगार के साथ ही उठी कैम्पस लोकतंत्र और रोहित एक्ट लागू करने की माँग नई दिल्ली, 28 सितंबर।  शहीद-ए-आज़म भगतसिंह के 109वें जन्मदिन पर उनके और डॉक्टर भीमराव अम्बेडकर के सपनों का भारत बनाने के संकल्प के साथ देश भर से आए हज़ारों छात्र-नौजवानों ने अम्बेडकर भवन से संसद मार्ग तक ...

Read More »

प्रवक्ता का नौकरी से इंकार फिर भी गोविवि व महाविद्यालय कार्यभार ग्रहण के लिए कर रहा जबरदस्ती

20_04_2016-ddugu_g_200416

जीएनएल सिटी रिपोर्टर  गोरखपुर, 29 सितम्बर। स्ववित्त पोषित महाविद्यालयों में शिक्षकों की नियुक्ति में हो रहा गड़बड़झाला किसी से छुपा नहीं हैं। उच्च शिक्षा की दुर्गति में अनुमोदन के खेल ने काफी इजाफा किया हैं। दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय से सम्बद्ध महाविद्यालयों में भी यह खेल खेलेयाम हो रहा है।  प्रवक्ता नौकरी करने का इच्छुक नहीं हैं फिर भी महाविद्यालय ...

Read More »

मौसिकी का हर साज-ओ-सामान मिलता है यहाँ

e69ae361-4154-419f-a709-35f1ab7d9c5f

बक्शीपुर के थवईपुल पर है वाद्य यंत्रों का इकलौता व सबसे बड़ा बाजार  सैयद फरहान अहमद  गोरखपुर, 18 सितम्बर। मौसिकी (संगीत)के बिना भारतीय संस्कृति की कल्पना करना बेमानी है। इसे भारतीयों की रूह कहा जायें तो कोई अतिशयोक्ति न होगी। भारतीय तीज-त्योहार, सांस्कृतिक कार्यक्रम, शादी विवाह बिना मौसिकी के अधूरे है। मौसिकी हो और वाद्ययंत्रों का जिक्र न हो तो ...

Read More »
Skip to toolbar