Templates by BIGtheme NET
Home » जीएनल स्पेशल (page 3)

जीएनल स्पेशल

वर्ष 2017 में बीआरडी मेडिकल कालेज में 3239 बच्चों की मौत

BRD Medical college

गोरखपुर, 24 जनवरी। बीआरडी मेडिकल कालेज में वर्ष 2017 में कुल 3239 बच्चों की मौत हुई है। इसमें इंसेफेलाइटिस (जेई/एईइस) रोगियों के अलावा नवजात शिशु व दूसरे रोगों से पीड़ित बच्चे शामिल हैं। पिछले तीन वर्षों के मुकाबले वर्ष 2017 में बच्चों की मौत सर्वाधिक है। यह जानकारी बीआरडी मेडिकल कालेज के सूत्रों से मिली है। बीआरडी कालेज के प्रशासन ...

Read More »

मदरसा शिक्षा परिषद की मुंशी/मौलवी परीक्षा की मार्कशीट पर पासपोर्ट विभाग को भरोसा नहीं है

logo_gorakhpur-news-line-2

मार्कशीट का सत्यापन कराने के बाद शुरू होती है पासपोर्ट बनाने की प्रक्रिया छात्रों को मदरसे से लेकर मदरसा शिक्षा परिषद कार्यालय तक करनी होती है भाग दौड़ गोरखपुर, 23 जनवरी। पासपोर्ट बनवाने के लिए मदरसे से मुंशी/मौलवी पास छात्रों को कई सालों से मशक्कत करनी पड़ रही है। उप्र मदरसा शिक्षा परिषद की मुंशी/मौलवी परीक्षा की मार्कशीट पर पासपोर्ट ...

Read More »

मधवलिया गोसदन में 13 महीेने में 126 गोवंशीय पशुओं की मौत

madhwaliya go sadan 5

गोरखपुर, 19 जनवरी। महराजगंज जिले के मधवलिया गोसदन में गोवंशीय पशुओं की मौत पहले भी होती आयी है। दुर्व्यवस्था के कारण हर महीने गोवंशीय पशुओं की मौत होती रही है। पिछले 13 महीेने में 126 गोवंशीय पशुओं की मौत हुई थी। मधवलिया गोसदन में जनवरी माह के एक पखवारे में 23 गोवंशीय पशुओं की मौत चर्चा में है। गोरखपुर न्यूज ...

Read More »

1957 में 500 एकड़ में बना था मधवलिया गोसदन

madhwaliya go sadan 9

गोरखपुर, 15 जनवरी. गोवंशीय पशुओं की मौत से चर्चामें आये मधवलिया गोसदन की स्थापना चार जनवरी 1957 के एक शासनादेश के जरिए हुई थी। 18 अप्रैल 1969 में वन विभाग द्वारा इसके लिए पशुपालन विभाग को 711 एकड़ भूमि आवंटित की गई। इसके बाद 24 जून 1970 को पशुपालन विभाग को 500 एकड़ भूमि हस्तान्तरित कर दी गई। शेष 211 ...

Read More »

महराजगंज के मधवलिया गोसदन में एक पखवारे में 23 गोवंशीय पशुओं की मौत

madhwaliya go sadan 5

गोवंशीय पशुओं की मौत की खबर सार्वजनिक होने पर मरे पशुओं को गड्ढा खोद दफनाया गया गोरखपुर /महराजगंज 14 जनवरी। महराजगंज जिले के मधवलिया गो सदन में गायों की मौत के मामले ने तूल पकड़ लिया है। गायों की मौत की खबर आने के बाद आनन-फानन में प्रशासन ने पोस्टमार्टम कराने के बाद मरी गायों को जेसीबी मशीन से गड्ढे ...

Read More »

धर्म स्थलों पर लाउडस्पीकर अनुमति : इंतेजामियां कमेटी चुस्त, प्रशासन सुस्त

loud spekear

गोरखपुर, 11 जनवरी. धार्मिक स्थलों पर वर्षों से चल रहे लाउडस्पीकर को लेकर जहां इंतेजामियां कमेटी व समाज के अन्य लोग जागरुक नजर आ रहे हैं वहीं प्रशासनिक अमला खामोश है यानी इंतजामियां कमेटी चुस्त प्रशासनिक अमला सुस्त है। लाउडस्पीकर अनुमति प्रोफार्मा कहां मिलेगा, कहां जमा होगा, प्रोफार्मा के साथ क्या-क्या कागजात लगेंगे आदि ऐसे सवालात लोगों के सामने आ ...

Read More »

त्रिशक्ति महासम्मेलन में ओबीसी जातियों की एकता का शंखनाद, पिछड़ों के लिए 52 फीसदी आरक्षण की मांग

jan 2018 093

भाजपा-आरएसएस के खिलाए दिखाए तीखे तेवर, गोरखपुर लोकसभा उपचुनाव में ताकत दिखाने का आह्वान गोरखपुर, 7 जनवरी। गोकुल अतिथि भवन में 5 जनवरी को आयोजित यादव-निषाद-सैंथवार-पटेल-राजभर सहित सभी ओबीसी जाति के त्रिशक्ति महासम्मेलन में ओबीसी एकता का शंखनाद करते हुए ओबीसी जातियों के लिए संविधान में संशोधन कर 52 फीसदी आरक्षण देने की मांग की गई। महासम्मेलन में भाजपा-आरएसएस पर ...

Read More »

राजस्व गांव का दर्जा मिलने के बाद वनटांगियां गांवों में विकास की राह खुली

वन ग्राम चंदन चाफी बरहवां (फाइल फोटो)

एक जनवरी को सीएम देंगे महराजगंज जिले के 18 वन ग्रामों को राजस्व गांव का प्रमाण पत्र वन ग्राम चंदन चाफी बरहवां में आयोजित होगा कार्यक्रम आंगनबाड़ी केन्द्र का शिलान्यास भी होगा वन ग्रामों में 18 प्राइमरी स्कूल, 7 जूनियर हाईस्कूल, 5849 आवास देने की योजना गोरखपुर /महराजगंज। महराजगंज जिले के 18 वन ग्रामों में रहने वाले हजारों वनटांगियों की ...

Read More »

बिना डाक्टर का एक अस्पताल

dec 27_17 276

30 बेड वाले जंगल कौड़िया सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र का हाल तीन महीने से कोई डाॅक्टर नहीं 20 अफसर अब तक कर चुके हैं निरीक्षण लेकिन व्यवस्था जस की तस अस्पताल परिसर में पानी भी नहीं मिलेगा गोरखपुर, 27 दिसम्बर। इंसेफेलाइटिस व अन्य रोगों से बड़ी संख्या में बच्चों की मौत को देखते हुए प्राथमिक व सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों (पीएचसी-सीएचसी) को ...

Read More »

पञ्चदेव जी : नेपाल की जनता के सच्चे हितैषी

panchdew

स्मृति शेष                                    चन्द्रकिशोर लोकनायक जयप्रकाश नारायण के नेतृत्व में हुए सम्पूर्ण क्रान्ति काल भारत मे जबर्दस्त राजनीतिक चेतना की जागृति का काल था । इस समय अनेक युवा सार्वजनिक जीवन मे उभरे और अहर्निश अपने संकल्प के लिए संघर्षरत रहे। ऐसे ही योद्धाओं ...

Read More »
Skip to toolbar