विचार

विचार

नोटबंदी : असर-बेअसर

जावेद अनीस बीते साल 8 नवम्बर 2016 को रात आठ बजे प्रधानमंत्री ने अचानक 500 और 1000 के नोटों को बंद करने की घोषणा की थी तो यह भारतीयों के लिए सबसे बड़ी घटना बन...

विचार

कपड़े में अटका ‘ ईमान ’

नासिरुद्दीन, वरिष्ठ पत्रकार एक फोटो है. फोटो में एक नौजवान लड़का और लड़की हैं. दोनों सज-धज कर बैठे हैं. साथ में उनकी छोटी सी बेटी है. आम आंखों को इस तस्वीर में...

विचार

हिंसा में कोई मर्दानगी नहीं

नासिरुद्दीन वरिष्ठ पत्रकार रघुवीर सहाय की कविता ‘औरत की जिंदगी’ की कुछ पंक्तियां हैं- कई कोठरियां थीं कतार में/ उनमें किसी में एक औरत ले जाई गयी/ थोड़ी देर बाद...

विचार

‘ जे नोटवा बंद कइले बा उहो चटनी ओटनी खात बा का ’

  रमाशंकर चौधरी किसुन कुशवाहा उर्फ महतो खड्डा विधान सभा क्षेत्र से भाजपा से टिकट की दावेदारी कर रहे एक नेता के प्रबल समर्थक हैं लेकिन उससे ज्यादे मोदी...

विचार

पूंजीवाद और साम्राज्यवाद के खिलाफ अनवरत संघर्ष का अप्रितम योद्धा

पूंजीवाद, और साम्राज्यवाद के खिलाफ अनवरत संघर्ष का अप्रितम योद्धा सग़ीर ए खाकसार, वरिष्ठ पत्रकार  वो शख्स अमेरिका की उधार दी हुई सांसों पर जीना नहीं चाहता...