Templates by BIGtheme NET
Home » साहित्य - संस्कृति » यात्रा संस्मरण

यात्रा संस्मरण

गंगटोक : खूबसूरत शहर , प्यारे लोग

gangtok 8

सिक्किम यात्रा-4 (समाप्त) सगीर ए खाकसार अगर आप गंगटोक जा रहे हैं तो कम से कम पांच दिन या हफ्ते भर का प्रोग्राम अवश्य बनाएं। गंगटोक के चारों दिशाओं में कुछ न कुछ घूमने लायक़ है। गंगटोक के बारे में पहले से ज़्यादा कुछ न मालूम होने की वजह से हम लोगों को बहुत से खूबसूरत जगहों को देखने से ...

Read More »

छंगू लेक की खूबसूरती का भला क्या कहना !

IMG-20180519-WA0004

सिक्किम यात्रा-3 सगीर ए खाकसार कहते हैं कि गंगटोक कश्मीर के बाद हिंदुस्तान की दूसरी सबसे खूबसूरत जगह है। मैंने कश्मीर तो देखा नहीं है। फिर मेरे लिए तो हिन्दुस्तान की सबसे खूबसूरत जगह गंगटोक ही हुई। सिक्किम यात्रा का पहला दिन गंगटोक के पूर्वी हिस्से में स्थित बाबा मंदिर और सोमोगो लेक अथवा छंगू लेक को निहारने में गुजरा। ...

Read More »

गंगटोक : भारत का स्विट्ज़रलैंड

gangtok 3

सिक्किम यात्रा-2 सगीर ए खाकसार भारत का स्विट्ज़रलैंड कहे जाने वाले गंगटोक के स्थानीय पर्यटन स्थलों को देखने के क्रम में हमारे टैक्सी ड्राइवर जेपी ने सबसे पहले दूर स्थित हनुमान टोक को दिखाना मुनासिब समझा। यहां पर टूर पाइंट्स के हिसाब से तय होते हैं । आप कितने पॉइंट्स देखना चाहते हैं। हमने दस पाइंट्स देखने तय किये। हनुमान ...

Read More »

7200 फुट की ऊंचाई पर स्थित हनुमान टोक से दिखता है गंगटोक का खूबसूरत नजारा

gangtok 12

सिक्किम यात्रा-एक सगीर ए खाकसार यह है हनुमान टोक। यह मंदिर सिक्किम के गंगटोक शहर से करीब 09 किमी दूर है। मेरे ड्राइवर ने बताया कि टोक का अर्थ होता है ऊंचाई या फिर टॉप। इससे पहले मैंने यहां के मंदिरों के नाम हनुमान टोक और गणेश टोक से अंदाज़ा लगाया था कि शायद टोक का अर्थ होता है मंदिर। ...

Read More »