साहित्य – संस्कृति

साहित्य - संस्कृति

मंदिर हादसे के पीछे आस्था नहीं, लापरवाही

ईश्वर पर आस्था का कोई मोल-तोल नहीं है, पर जब हम दुनियावी अर्थों में ईश्वर को तमाशा बनाने लगते हैं, तब मुश्किलें खड़ी हो जाती हैं। केरल के एक मंदिर में पिछले...

विचार साहित्य - संस्कृति

कैबिनेट से क्यों, मुल्क से बाहर करवा दें : आज़म ख़ां

नूरा कुश्ती व्यंग्य डॉ. मुकेश कुमार उत्तरप्रदेश के मंत्री आज़म ख़ाँ का खाना तब तक हज़म नहीं होता जब तक वे किसी से पंगा न ले लें। फिलहाल उनकी राज्यपाल राम नाइक...

साहित्य - संस्कृति

गरीब किसानों और मजदूरों के ‘राहुल बाबा’

राहुल सांकृत्यायन, जिन्हें गऱीब किसान और मज़दूर प्यार से राहुल बाबा बुलाते थे, एक चोटी के विद्वान, कई भाषाओं और विषयों के अद्भुत जानकार थे, चाहते तो आराम से...

साहित्य - संस्कृति

देश का संविधान भारतीय दर्शन संस्कृति और साहित्य का सार है

भारतीयसंविधान हर नागरिक को राजनीतिक, सामाजिक और आर्थिक क्षेत्र में बिना भेदभाव के समान अवसर प्रदान करता है। डॉ. भीम राव अंबेडकर ने देश के संविधान के रूप में एक...

साहित्य - संस्कृति

वरिष्ठ कथाकार मदन मोहन को प्रेमचंद स्मृति कथा साहित्य सम्मान

उपन्यास ‘ जहाँ एक जंगल था ’ पर दिया गया यह सम्मान बांदा की प्रसिद्ध साहित्यिक संस्था ‘ शबरी ’ देती है यह सम्मान  गोरखपुर, 9 अप्रैल। बाँदा की प्रतिष्ठित...

Skip to toolbar