लोकसभा चुनाव 2019

गठबंधन मजबूत है, टिकाऊ है और भाजपा की केन्द्र व यूपी की सरकार को उखाड़ फेंकने तक चलेगा : मायावती

यूपी से भाजपा का सूपड़ा साफ होगा: अखिलेश यादव

गोरखपुर। सपा-बसपा-रालोद गठबंधन की 13 मई को रामगढ़ ताल क्षेत्र स्थित चम्पा देवी पार्क में हुई रैली में बसपा प्रमुख मायावती ने भाजपा और पीएम नरेन्द्र मोदी पर तीखे प्रहार किए। उन्होंने कहा कि छह चरण के चुनाव में गठबंधन आगे हैं और आखिरी चरण में भी आगे रहेगा। नमो नमो वालों की छुट्टी होगी और जय भीम वाले आएंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा घबराई हुई है, नींद उड़ी हुई हैं क्योंकि उनकी सरकार जा रही है। जब 23 मई को रिजल्ट आएगा उसी दिन भाजपा और नरेन्द्र मोदी के बुरे दिए शुरू हो जाएंगे।

गठबंधन की रैली में सबसे पहले बसपा प्रमुख मायावती बोलीं। उन्होंने करीब 24 मिनट का अपना लिखित भाषण पढ़ा। उनके बाद सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव बोले। उनका भाषण 22 मिनट का था। सबसे आखिर में राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष अजित सिंह बोले। वह छह-सात मिनट ही बोले और इस दौरान उन्होंने राहुल गांधी के हिट नारे ‘ चौकीदार चोर है ’ को दो बार लगवाया। यह भी कहा कि यह नारा बहुत हो गया, अब यह भी नारा लगाइए कि ‘ तख्त बदल दो, ताज बदल दो, मोदी का राज बदल दो। ‘ उन्होंने मोदी को पूंजीपतियों का चौकीदार बताया।

मंच पर बसपा के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चन्द्र मिश्र, बसपा प्रमुख के भतीजे एवं स्टार कैम्पेनर आकाश आनंद भी मौजूद थे लेकिन उन्होंने भाषण नहीं दिया।

मायावती ने अपने सम्बोधन में कांग्रेस की भी आलोचना की और कहा कि आजादी के बाद काफी समय तक कांग्रेस की केन्द्र व राज्यों में सरकार रही लेकिन गलत नीतियों और कामों के चलते उसकी सत्ता चली गई। अब भाजपा-मोदी की सरकार भी गलत नीतियों व कामों के वजह से जा रही है।

मायावती भाजपा और नरेन्द्र मोदी पर बेहद आक्रामक नजर आईं। उन्होंने कहा कि 23 मई को रिजल्ट आएग तो भाजपा-नरेन्द्र मोदी के बुरे दिन शुरू हो जाएंगे। योगी आदित्यनाथ के भी मठ में जाने की तैयारी शुरू हो जाएगी। खराब समय देख नरेन्द्र मोदी जनता की सहानुभूति पाने के लिए अपने को अति पिछड़े वर्ग का, गरीब और फकीर होने का नाटक कर रहे हैं जबकि पांच वर्ष तक उन्होंने गरीबों को ही लूटा है। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि नरेन्द्र मोदी कह रहे हैं कि ‘ उन्हें नई-नई गालियां दी जा रही हैं। आप जानते हैं कि गाली उसे ही दी जाती है जो गाली खाने का काम करता है। नरेन्द्र मोदी को यह जरूर ध्यान में रखना चाहिए। ’

बसपा सुप्रीमों ने कहा कि हमने नरेन्द्र मोदी से कभी जाति नहीं पूछी। हमने उनकी जाति के बारे में जनता को सही जानकारी दी कि कैसे उन्होंने गुजरात में सत्ता में आने के बाद अपने को पिछड़ी जाति में शामिल कराया।

उन्होंने कहा कि मोदी फर्जी, नकली ओबीसी हैं। सपा प्रमुख अखिलेश यादव की तरफ इशारा करते हुए उन्होंने कहा कि असली ओबीसी तो यहां बैठें हैं। जो खुद फर्जी, नकली हो उसे दूसरे लोग भी फर्जी व नकली नजर आते हैं।

उन्होंने कहा कि गठबंधन को कमजार व तोड़ने के लिए रोज नए-नए भ्रम पैदा किए जा रहे हैं लेकिन मै नरेन्द्र मोदी, अमित शाह और योगी को बता देना चाहती हूं कि गठबंधन मजबूत है, लम्बा चलेगा, टिकाऊ है और पूरी मजबूती से अपना काम करता रहेगा। गठबंधन मेहनत से अपना जनाधार बढ़ाता रहेगा जब तक केन्द्र के साथ-साथ यूपी की सरकार को उखाड़ का फेंक नहीं देता।

सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने अपने सम्बोधन में किसानों की आय दोगुनी करने, दो करोड़ रेाजगार, काला धन, नोटबंदी, जीएसटी के मुद्दे उठाए और इस पर मोदी-योगी सरकार को घेरा। उन्होंने लोगों से चौकीदार की चौकी छीन लेने और ठोकीदार को सत्ता से बाहर करने का आह्वान किया। उन्होंने गोरखपुर उपचुनाव का जिक्र करते हुए कहा कि उस समय तो बहन जी ने सिर्फ समर्थन दिया था और हमने गोरखपुर में ऐतिहासिक जीत दर्ज कर ली। अब तो गठबंधन बन चुका है। इसलिए यूपी में भाजपा का सूपड़ा साफ होने वाला है।

मायावती और अखिलेश यादव ने सभा में गोरखपुर से गठबंधन प्रत्याशी रामभुआल निषाद, बांसगांव से सदल प्रसाद, महराजगंज से अखिलेश सिंह और कुशीनगर से नथुनी कुशवाहा को जिताने की अपील की।

Leave a Comment