स्वास्थ्य

चौरी चौरा के बरही गांव में बाढ़ बचाव के माकड्रिल का आयोजन

चौरी चौरा के बरही गांव में राप्ती नदी के तट पर बाढ़ बचाव का प्रदर्शन करते एनडीआरएफ जवान

एनडीआरएफ और जिला प्रशासन का संयुक्त आयोजन

गोरखपुर, चौरीचौरा क्षेत्र के बरही गांव में राप्तीनगर के तट पर बाढ़ आपदा प्रबंधन माक ड्रिल का आयोजन किया गया. इस दौरान बाढ विभिन्न शासकीय विभागों के कर्मियों व स्थानीय ग्रामीणों को बाढ़ के दौरान डूबते हुये व्यक्ति को बचाने और उसके प्राथमिक उपचार का प्रशिक्षण दिया गया.

प्रशिक्षण के दौरान आपदा प्रबंधन ने अधिकारियों ने कहा कि आपदा या घटना जिससे जान माल की हानि होती है, उचित प्रबंधन से हानि कम की जा सकती है. आपदा किसी भी समय आ सकती है। इसलिये सभी नागरिकों को आपदा प्रबंधन के उचित तौर तरीकों का ज्ञान होना आवश्यक है।

माकड्रिल के पूर्व एक सूचना प्रसारित की गयी जिसमें बरही गांव के राप्ती नदी की बाढ़ के पानी से घिरने की बात बताई गयी. जिला प्रशासन की यह सूचना एनडीआरएफ व अन्य हितधारक एजेंसियों के कंट्रोलरूम को दी गयी. सभी एजेंसियां हरकत में आ गयीं. इस दौरान प्रशासन ने गोरखपुर से घटना स्थल तक राहत के वाहनों व एंबुलेंस आदि को समय से पहुंचाने के लिये ग्रीन कारीडोर का प्रयोग किया .

क्षेत्रीय प्रत्युत्तर केंद्र 11 वीं वाहिनी एनडीआरएफ गोरखपुर के बचाव दल की टीम के कमांडर निरीक्षक डीपी चंद्रा ने मौके पर पहुंचते ही बचाव कार्य शुरू कर दिया. विशेषज्ञों द्वारा बाढ़ में डूबते व्यक्ति को बचाने की विभिन्न तकनीकों का प्रयोग किया गया. माकड्रिल के दौरान बाढ़ प्रभावित ग्रामीणों को बाढ़ से पहले, बाढ़ के दौरान व बाढ़ के बाद अपनायी जाने वाली सावधानियों,घरेलू सामानों का इस्तेमाल कर इम्प्रोवाइजड राफ्ट बनाना व उसका इस्तेमाल करने का तरीका, डूबते आदमी को पानी में जाकर बचाने व बाहर से ही बचाने के गुर बताये गये.

इस मौके पर एसडीएम त्रिवेणी प्रसाद वर्मा, निरीक्षक डीपी चंद्रा व एनडीआरएफ टीम के सदस्य, तहसीलदार चौरीचौरा रत्नेश तिवारी, बीडीओ प्रमोद पांडेय, एसएचओ सतीश कुमार, लेखपाल साधना सिंह व ग्रामीण उपस्थित थे.

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz