पर्यावरण समाचार

अवैध मिट्टी खनन बना जानलेवा ,नहाते समय डूब जाने से चार बच्चों की मौत

  • 188
    Shares

गोरखपुर. गोरखनाथ इलाके में आज सुबह 11 बजे रामपुर नया गांव तटबंध के पास अवैध मिट्टी खनन करने से बने गड्ढे में नहाते समय डूब जाने से चार बच्चों की मौत हो गई. इस सूचना के आम होते ही कोहराम मच गया.

रसूलपुर इलाके के रहने वाले 8 बच्चे एक साथ रामपुर नया गांव के पास गड्ढे में नहा रहे थे। यह गड्ढा रोहिन नदी के किनारे तटबंध के पास था. यह गड्ढा अवैध मिटटी खनन के कारन बना था. गड्ढा कहीं कहीं 8 फीट तक था. नदी में पानी बढ़ने के कारण इसमें पानी भर गया था. पानी का अंदाजा न लगने से चार बच्चे इसमें डूब गये.

डूब कर मरने वालों में इरफान पुत्र अबू अजीम (12 वर्ष), निहाल पुत्र अकरम (15 वर्ष), अमीन पुत्र वजीउल्लाह (17 वर्ष), उजाईद पुत्र फैजुलहसन (14 वर्ष) शामिल हैं.

नहाने के दौरान इरफान सबसे पहले गहरे गड्ढे की तरफ चला गया और डूबने लगा.उसने मदद के लिए अपने साथियों को आवाज दी. इस पर तीनों बच्चे उसे बचाने के लिए गड्ढे में कूद गये लेकिन वे भी डूब गये. इन चारों के अलावा नहाने के लिए इनके साथ रमजान, फैजान, अरशद, शहिल भी गये थे. ये अपने साथियों को नहीं बचा सके. घटना की सूचना के बाद मौके पर पुलिस और परिवार वाले पहुंच गये। दर्दनाक हादसे के बाद आसपास के इलाके के लोग काफी दुखी हैं.

प्रभारी निरीक्षक गोरखनाथ द्वारा मौके पर पहुँचकर गोताखोरो की मदद से चारो बच्चों के शव को ढूंढ़ कर बाहर निकाला गया तथा शव को पोस्टमार्टम हेतु मेडीकल कॉलेज गोरखपुर भेजकर अग्रिम विधिक कार्यवाही की जा रही है.

पानी में डूबने से मरे रसूलपुर के चारों बच्चों की नमाज-ए-जनाजा शुक्रवार की रात रसूलपुर जामा मस्जिद के बाहर अदा की गयी. मृतक उजैर अहमद व मोहम्मद अमीन के शव को रसूलपुर जामा मस्जिद के बगल के कब्रिस्तान में और मोहम्मद निहाल व मोहम्मद इरफान के शव को पुराना गोरखपुर पूर्वांचल नर्सिंग होम के सामने मक्की मस्जिद के बगल के कब्रिस्तान में सुपुर्दे खाक किया गया. इस मौके पर काफी भीड़ उमड़ी। सबने नम आंखों से मिट्टी दी और दुआ-ए-मगफिरत की.

Add Comment

Click here to post a comment