समाचार

दलित महिला ग्राम प्रधान को झंडारोहण करने से रोके जाने के खिलाफ प्रदर्शन

महराजगंज. दलित महिला ग्राम प्रधान को सवर्ण प्रधानाध्यापक द्वारा झंडारोहण करने से रोके जाने और इस मामले में दलित महिला प्रधान द्वारा पुलिस से शिकायत पर कोई सुनवाई न किए जाने के खिलाफ पूर्वांचल सेना ने आज जिलाधिकारी महाराजगंज कार्यालय पर विरोध प्रदर्शन कर ज्ञापन सौंपा. ज्ञापन में जातीय द्वेष फैलाने वाले प्रधानाचार्य और इस मामले में शिकायत के बाद भी मुकदमा न लिखने वाले पुलिस कर्मियों पर कार्यवाही करने की मांग की गई है.

विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष अविनाश कुमार ने किया. महाराजगंज जिले के ग्राम महुआरी के प्राथमिक विद्यालय में 15 अगस्त के अवसर पर विद्यालय में आयोजित कार्यक्रम में झंडारोहण करने जा रही ग्राम सभा की महिला प्रधान रीता देवी को दलित होने के नाते प्रधानाध्यापक अजय कुमार त्रिपाठी द्वारा रोक दिया गया था. प्रधानाध्यापक द्वारा यह कहते हुए कि “आज तक किसी दलित ने इस विद्यालय में झंडारोहण नहीं किया है इसलिए मैं ही झंडारोहण करूंगा” ,  स्वयं झंडारोहण किया गया था.

विरोध प्रदर्शन के दौरान प्रदर्शनकारियों ने “जातिवाद मुर्दाबाद” “लोकतंत्र जिंदाबाद” “संविधान जिंदाबाद” “जातीवादियों को जेल” भेजो जैसे नारे भी लगाए ।
विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे है अविनाश कुमार ने कहा कि महाराजगंज में दो तरह का कानून चल रहा है. एक मुस्लिम शिक्षक द्वारा राष्ट्रगान न गाने पर उसके खिलाफ तत्काल कार्यवाही करते हुए जेल भेज दिया गया लेकिन वहीं पर वहीं दूसरी तरफ इसी महाराजगंज जिले में एक स्वर्ण प्रधानाचार्य द्वारा चुनी गई महिला ग्राम प्रधान को दलित होने के नाते झंडारोहण नहीं करने दिया गया. इस जघन्य असंवैधानिक और जातिवादी कुकृत्य की लिखित शिकायत के बाद भी पुलिस द्वारा कोई कार्यवाही नहीं की गई.


यह बात दर्शाती है कि वर्तमान सरकार में एससी/एसटी/ओबीसी/माइनॉरिटी पर ही कानून लागू है और सवर्ण लोगों को संविधान और कानून की धज्जियां उड़ाने का खुला छूट प्राप्त है. उन्होंने कहा कि महाराजगंज जिले में हुआ यह कुकृत्य देश में वर्तमान सरकारों द्वारा मनुवादी, जातिवादी , महिला और समानता विरोधी मानसिकता वाले लोगों को शह देने के कारण का परिणाम है, जिसकी जितनी भी निंदा की जाए कम है. उन्होंने कहा कि आज हम प्रशासन को ज्ञापन देकर मांग करते हैं संपूर्ण मामले की जांच कराकर दोषियों के खिलाफ कार्यवाही की जाए अन्यथा हम आंदोलन को बाध्य होंगे.

पूर्वांचल सेना जिला प्रभारी विष्णु गुप्ता ने कहा कि महाराजगंज में हुए इस जाति आधारित दुर्व्यवहार के खिलाफ हम यहां एकत्र होकर प्रदर्शन कर रहे हैं. यदि दोषियों पर यथाशीघ्र कार्यवाही नहीं होती है तो हम कल फिर यहां पर आंदोलन करने आएंगे.

इस अवसर पर अरविंद कुमार गौतम, संजय कुमार गौतम, राम लखन, मनोज कुमार, अविनाश मणि यादव, अभिषेक भारती, अरुण कुमार गौतम, मनोज कुमार भारती, असलम अली, विशाल कुमार गौतम, अजय कुमार भार्गव आदि उपस्थित रहे.

Leave a Comment