स्वास्थ्य

देवरिया में दस्त नियंत्रण पखवारा, सीएमओ ने ओआएएस बनाने की तरकीब बताई

एक महिला को ओआरएस घोल का पैकेट प्रदान करते सीएमओ देवरिया

देवरिया, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ धीरेन्द्र कुमार ने जिला महिला चिकित्सालय में सघन दस्त नियंत्रण पखवाड़ा का शुभारंभ जिंक कार्नर पर बच्चों को ओआरएस घोल पिलाकर और वितरित कर किया. इस दौरान उन्होंने कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को ओआरएस का घोल बनाना भी सिखाया. उन्होंने बताया कि दस्त के कारण बच्चों की मौत को रोकने के लिए 28 मई  से 9 जून तक  जिले में सघन दस्त पखवारा चलाया जा रहा है.

सीएमओ ने बताया कि 10 प्रतिशत बच्चों की मौत दस्त के कारण होती है. माता-पिता के ध्यान न देने के कारण बच्चों की हालत खराब हो जाती है और समय से इलाज न होने केे कारण मौत भी हो जाती है.  दस्त नियंत्रण पखवाड़ा अभियान को सफल बनाने के लिए 406 एएनएम व 2571 आशा कार्यकर्ताओं को लगाया गया है. इसके अलावा 53 मोबाइल टीम व 85  सुपरवाईजर की टीम कार्य कर रही  है. प्रत्येक सीएचसी, पीएचसी पर जिंक कार्नर बनाये गए हैं. उन्होंने कहा कि सघन दस्त नियंत्रण पखवाड़े के दौरान पांच वर्ष तक की उम्र के बच्चों के घर पर ओआरएस पैकेट एएनएम व  आशा कार्यकर्ता की ओर से उपलब्ध कराया जाएगा और ओआरएस बनाने की प्रक्रिया से भी अवगत कराया जाएगा. साथ ही दस्त से ग्रसित बच्चों को ओआरएस के साथ जिंक टेबलेट के उपयोग करने के विषय में भी जानकारी दी जाएगी. जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ डीवी शाही कहा कि जिले के विभिन्न सामुदायिक/प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर ओआरएस पैकेट और जिंक की गोली पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध करा दी गई है. दस्त की चपेट में आते ही बच्चों को ओआरएस की साथ जिंक की गोली दें.

इस मौके पर महिला अस्पताल की सीएमएस डा. माला सिन्हा,  डॉ हसन फईम, फरहा खान सहित अन्य स्वास्थ्यकर्मी मौजूद रहे.

Leave a Comment