समाचार

डा. कफील को बहराइच जिला अस्पताल से पुलिस ने हिरासत में लिया

  • 113
    Shares

रहस्यमय बुखार से बच्चों की मौत के मामले की जानकारी लेने गए थे

गोरखपुर /बहराइच। बहराइच के जिला अस्पताल में बच्चों की मौत के मामले में बच्चों के परिजनों से मिलने गए बीआरडी मेडिकल कालेज के बाल रोग विभाग के निलम्बित प्रवक्ता डाॅ. कफील अहमद खान को पुलिस ने आज दोपहर हिरासत में ले लिया गया।

डा. कफील के भाई अदील अहमद खान ने आरोप लगाया है कि पुलिस हिरासत में लिए जाने के बाद डा. कफील का पता नहीं है। उनका मोबाइल भी बंद है। पुलिस उनके बारे में कुछ नहीं बता रही है।

इसी बीच पता चला है कि पुलिस ने डाॅ कफील को एक गेस्ट हाउस में रखा गया है और उनके खिलाफ लोक व्यवस्था भंग करने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया जा रहा है।

कुछ दिन पहले खबर आई थी कि बहराइच जिला अस्पताल में 45 दिन में 71 बच्चे मर गए। इसमें नवजात शिशुओं के अलावा रहस्यमय बुखार से मरने वाले बच्चे शामिल है। डा. कफील ने कहा कि उन्हें बताया गया कि रहस्यमय बुखार कुछ और नहीं इंसेफेलाइटिस है। बीमारी के जो लक्षण बताए जा रहे थे वह इंसेफेलाइटिस के लक्षण हैं। यह जानकारी मिलने के बाद उन्होंने वहां जाने का निर्णय लिया। उन्होंने बहराइच जाने के फैसले को फेसबुक पर भी लिखा। आज उनकी ओर से यह सूचना दी गई कि वह दोपहर में प्रेस कांफ्रेस भी करेंगे।

डा. कफील दोपहर ढाई बजे बहराइच जिला अस्पताल पहुंचे और वहां बुखार से पीड़ित बच्चों के परिजनों से बीमारी के बारे में बात करने लगे।इसी वक्त सिटी मजिस्टेट, दो सीओ सहित बड़ी संख्या में पुलिस कर्मी वहां पहुंचे और उन्हें हिरासत में ले लिया। हिरासत में लिए जाने के बाद उन्हें अज्ञात स्थान पर ले जाया गया। हिरासत में लिए जाने के वक्त पुलिस से डा. कफील की नोकझोंक भी हुई। पुलिस कर्मियों ने उनका मोबाइल जब्त कर लिया।

डा. कफील के भाई अदील अहमद खान ने बताया कि डा. कफील का पता नहीं चल पा रहा है कि उन्हें कहां रखा गया है। उनसे सम्पर्क नहीं हो पा रहा है। उन्होंने रात में पुलिस कप्तान से मुलाकात की तो उन्होंने ने भी नहीं बताया कि डाॅ कफील को कहां रखा गया है। उन्होंने यह कहा कि डाॅ. कफील सुबह तक घर पहुंच जाएंगें। डाॅ कफील से बात कराने का अनुरोध भी उन्होंने ठुकरा दिया।

इसी बीच बहराइच के पत्रकारों ने बताया कि डाॅ कफील को सिलवरिया चीनी मिल के गेस्ट हाउस में रखा गया है। पुलिस का कहना है कि उन्होंने लोक व्यवस्था भंग करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

Add Comment

Click here to post a comment