समाचार

फरेंदा में बिजली अधिकारियों पर गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज

सोमवार को हाईटेंशन तार के पोल में करंट उतरने से  धान की रोपाई कर रहे
पांच लोगों की मौत हो गयी थी

मुख्यमंत्री ने जताया शोक, पीड़ितों को सहायता देने व मामले की जांच करा
दोषियों पर कार्रवाई का आदेश

महराजगंज, फरेंदा थाना क्षेत्र के पिचरूखी गांव में हाईटेंशन तार के पोल में करंट उतरने से धान की रोपाई कर रही एक महिला और चार बालिकाओं की मौत के मामले में बिजली विभाग के अधिकारियों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है।

मुख्यमंत्री ने इस घटना पर गहरा शोक व्यक्त करते हुये घटना की जांच और जिम्मेदारों पर कार्रवाई का आदेश दिया है। मृतकों को परिजनों को हर संभव सहायता देने का भी आदेश दिया है। सीएम के आदेश पर बिजली विभाग के बस्ती मंडल के चीफ इंजीनियर और उप निदेशक विद्युत सुरक्षा, गोरखपुर घटना की जांच का जिम्मा दिया गया है।

जांच टीम मौके पर पहुंची, इंसुलेटर टूटने की वजह से हुई दुर्घटना

बिजली निगम के सुरक्षा निदेशालय की टीम ने हादसे की वजह टूटे इंसुलेटर को
बताया है। इसी वजह से करंट खेत में लगे पोल में उतर गया और इसकी चपेट में
आकर एक महिला व चार बालिकाओं की मौत हो गयी।

ये है घटना

सोमवार को पिचरूखी  गांव की हड़हवा टोला निवासी रमाशंकर के खेत में धान की रोपाई हो रही थी. शाम साढ़े पांच बजे खेत के ऊपर से गुजर रही 11 हजार बोल्ट की हाईटेंशन लाइन के पोल में करंट उतर गया. इसकी चपेट में आने से 55 वर्षीय सुभावती, 18 वर्षीय ममता, 15 वर्षीय राधिका, 20 वर्षीय वंदिनी, 20 वर्षीय सोनी की तड़पकर मौत हो गयी. इन्हें बचाने के क्रम में कई लोग झुलसकर घायल हो गये. ममता और राधिका सगी बहनें हैं.

इस घटना के बाद नाराज ग्रामीणों ने धानी- फरेंदा मार्ग पर शवों को रखकर जाम लगा दिया. मौके पर पहुंचे अफसरों के ढाई घंटे की मशक्कत के बाद जाम हटा.

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz