समाचार

सरकार ने नहीं की मदद तो चार मदरसों ने अपने खर्चे पर लगवाये सीसीटीवी कैमरे

फाइल फोटो

गोरखपुर। नई पहल करते हुए जिले के चार अनुदानित मदरसे स्थायी तौर पर सीसीटीवी कैमरे से लैस हो गए हैं। वह भी स्वयं के खर्चे पर। गोरखपुर में मान्यता प्राप्त व गैर मान्यता प्राप्त 400 मदरसे हैं। जिले में 48 मदरसे आलिया मान्यता प्राप्त हैं, जिसमें दस अनुदानित हैं।

मदरसों की इस पहल से जहां मदरसों की सुरक्षा व्यवस्था सुदृढ़ होगी और परीक्षा नकल विहीन संपन्न होगी वहीं मदरसों को शक की निगाह से देख जाने की प्रवृत्ति पर भी लगाम लगेगी। उम्मीद है कि आने वाले वक्त में अन्य मदरसे भी सीसीटीवी कैमरे से लैस नजर आयें बशर्ते कि सरकार भी आर्थिक तौर पर मदरसों की मदद करे।

दस सीसीटीवी कैमरों से लैस होने वाला शहर का पहला मदरसा जियाउल उलूम पुराना गोरखपुर गोरखानाथ है। मदरसे के प्रधानाचार्य मौलाना नूरुज्ज़मा मिस्बाही ने बताया कि 23 जनवरी को स्थायी तौर पर मदरसे में 24 कैमरे लगवाये गएं हैं जिनकी लागत करीब एक लाख रुपया तक आयी है। कैमरा लगवाने का पूरा खर्चा मदरसा प्रबंधन ने उठाया है। यहां उप्र मदरसा शिक्षा परिषद की परीक्षा 11 फरवरी से शुरु होगी।

इसके अलावा देहात क्षेत्र का मदरसा अरबिया मिस्बाहुल उलूम असौजी बाजार तीन वर्ष पूर्व ही स्थायी तौर पर 8 सीसीटीवी कैमरों से लैस हो चुका था। यहां के प्रधानाचार्य मंजूर आलम ने बताया मदरसे में 8 कैमरे और लग रहे हैं। जिनकी लागत 50 हजार से ऊपर है। मदरसा स्वयं के खर्चे पर कैमरा लगवा रहा है। सरकार ने कोई मदद नहीं की है।

इसी तरह मदरसा जामिया रजविया अहले सुन्नत गोला बाजार के प्रधानाचार्य मौलाना मो. सिद्दीक कादरी ने बताया कि मदरसे में मंगलवार को स्थायी तौर पर दस कैमरे लग गये हैं। जिनकी लागत 30 हजार रुपया आयी हैं। यहां उप्र मदरसा शिक्षा परिषद की परीक्षा के तहत पांच कमरों में 227 छात्र/छात्राएं परीक्षा देंगे।

मदरसा अरबिया शमसुल उलूम, सिकरीगंज (अहाता नवाब) के प्रधानाचार्य मो. आजाद खां ने बताया कि अभी 15 दिन पहले मदरसे में स्थायी तौर पर 13 कैमरे लगवाये गये हैं। जिनकी लागत करीब 60 हजार रुपया है। यहां 6 कमरों में 283 छात्र/छात्राएं परीक्षा देंगे।

उप्र मदरसा शिक्षा परिषद की परीक्षा के मद्देनजर मदरसा अंजुमन इस्लामियां खूनीपुर व मदरसा दारुल उलूम हुसैनिया दीवान बाजार में अस्थायी तौर पर किराये के सीसीटीवी कैमरे से काम चलाया जायेगा। कैमरा लगाने की प्रक्रिया उक्त दोनों मदरसों में चल रही है।

Leave a Comment