स्वास्थ्य

तीन करोड़ से आरोग्य केंद्र के रूप में विकसित होंगे 11 पीएचसी व 30 उपकेन्द्र

महराजगंज. महराजगंज जिले के 41 स्वास्थ्य केन्द्रों की सेहत सुधारने पर सरकार करीब तीन करोड़ रुपए खर्च करने जा रही है । इनमें 11 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र और 30 उपकेंद्र शामिल हैं । ये सभी केंद्र आरोग्य केन्द्र के रूप में विकसित किए जाएंगे।

इस संबंध में एसीएमओ डा॰ राजेन्द्र प्रसाद ने कहा कि 11 पीएचसी व 30 उपकेन्द्रों को आरोग्य केन्द्र के रूप में विकसित करने लिए शासन स्तर से करीब तीन करोड़ रुपए की मंजूरी मिली है।

शासन की मंशा के अनुरूप इन केन्द्रों को आगामी फरवरी माह तक आरोग्य केन्द्र के रूप में संचालित करा देना है, जिसके लिए कवायद शुरू कर दी गई है।

आरोग्य केन्द्रों पर गर्भवती महिलाओं की जांच, नवजात शिशुओं की 42 दिनों तक देखभाल, किशोर स्वास्थ्य की देखभाल, परिवार नियोजन के लिए गर्भ निरोधक सामग्री, संचारी रोग का उपचार, राष्ट्रीय कार्यक्रम का प्रबंधन ,गैर संचारी रोग का उपचार की सुविधा मिलेगी.

एसीएमओ डाक्टर राजेन्द्र प्रसाद ने बताया कि सभी आरोग्य केन्द्रों पर हीमोग्लोबिन, टीएलसी, डीएलसी, यूरिन, मलेरिया, फाइलेरिया, डेंगू, मधुमेह , चिकनगुनिया, टीबी ,टाइफायड सहित कुल बारह प्रकार की जांच की सुविधा मिलेगी।

इन अस्पतालों की सुधरेगी सेहत

जिले के जिन 41 केन्द्रों की सेहत सुधरेगी उनमें 11 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बागापार, रम्हौली, कृतपिपरा, मंगलपुर, हरपुर, श्यामदेउरवा, गोपाला, रूदलापुर, बंदी, अनुसार तथा चौक शामिल हैं।
इसी प्रकार उपकेन्द्रों में सिसवनिया, कटहरा, परासखांङ, लखिमा थरूआ, खुटहा, चेहरी, पिपरा रसूलपुर, चौपरिया, दरौली, मटिहनिया, नेता सुरहुरवा, करमहा, कतरारी, मोहनापुर, धर्मपुर, छपिया, बङहरा बरईपार, बसहिया बुजुर्ग, बरियारपुर, बल्लोखास, बौलिया बाबू, चिउटहा, शीतलापुर, रायपुर, सेमरी, बेलवा, मुङेरी, सबया, नौसागर तथा सिकंदरा शामिल हैं।

Leave a Comment