समाचार

स्वाधीनता दिवस के मद्देनज़र भारत-नेपाल सीमा पर चौकसी बढ़ी

सगीर ए खाकसार/वरिष्ठ पत्रकार

बढ़नी (सिद्धार्थ नगर). स्वाधीनता दिवस के मद्देनज़र भारत-नेपाल सीमा पर सुरक्षा एजेंसियों ने चौकसी बढ़ा दी है।एसएसबी,सिविल पुलिस,आरपीएफ,के अलावा अन्य खुफिया एजेंसियां भी पूरी तरह सतर्क हैं। एसएसबी और आरपीएफ के जवानों ने बाकायदा अभियान चलाकर सार्वजनिक स्थानों मसलन बस अड्डा,रेलवे स्टेशन आदि जगहों की सोमवार को गहन जांच पड़ताल की.
भारत नेपाल सीमा को सुरक्षित रखने के उद्देश्य से हाई अलर्ट पर रखा गया है. आज एस एस बी और आरपीएफ की संयुक्त टीम ने आधुनिक संयंत्रों खोजी कुत्तों की मदद से सीमा से सटे कई संवेदनशील स्थानों पर चैकिंग कर सुरक्षा का जायज़ा लिया.एस एस बी की टीम का नेतृत्व सहायक कमाण्डेन्ट गौरव कुमार सिंह ने और आरपीएफ की टीम का नेतृत्व एस आई जसबीर सिंह ने किया.

सुरक्षा एजेंसियां भारत से नेपाल और नेपाल से भारत आने जाने वाले वाहनों और व्यक्तियों पर पैनी नज़र जमाये हुए है।एक एक वाहनों को रोक कर उनकी जांच पड़ताल की जारही है ,और संदिग्ध दिखने वाले व्यक्तियों से गहन पूंछताछ के अलावा उनकी तलाशी भी ले रही हैं. सीमा पर स्वाधीनता दिवस के मद्दे नज़र हाई अलर्ट के सवाल पर एस एस बी बढ़नी के सहायक कमाण्डेन्ट गौरव कुमार सिंह ने बताया कि सीमा को पूरी तरह हाई अलर्ट पर रखा गया है. दोनों देशों के आम नागरिक और अमन पसन्द शहरियों को घबड़ाने की कोई ज़रूरत नहीं है. हमारा अभियान देश विरोधी तत्वों के खिलाफ है. श्री सिंह ने कहा कि सुरक्षा एजेंसियों के जवान किसी भी परिस्थिति से निपटने में पूरी तरह सक्षम है।देश और समाज विरोधी तत्वों के नापाक मंसूबों को हम हरगिज़ कामयाब नहीं होने देंगे.

Leave a Comment