समाचार

10 दिन से गायब बच्चों के मामले में नगर विधायक ने गृह सचिव और डीजीपी से बात की

गोरखपुर. नगर विधायक डाक्टर राधा मोहन दास अग्रवाल ने आज प्रदेश के गृह सचिव अवनीश अवस्थी तथा पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने बात की और घोषीपुरवा के दो गायब बच्चों की खोजबीन के मामले में चल रही पुलिसिया जांच से असंतोष जाहिर करते हुये मामले को निजी संज्ञान में लेने के लिये कहा। दोनों अधिकारियों ने डा अग्रवाल को आश्वस्त किया कि वे इस संदर्भ में गोरखपुर के सभी अधिकारियों से बात करेंगे।

नगर विधायक ने दोनों अधिकारियों को बताया कि घटना 27 सितम्बर की है और अब तक 10 दिन बीत चुके हैं। लोग जानना चाहते हैं कि बच्चों का हुआ क्या । दस दिन हो गए और दोनों बच्चे अगर सचमुच नाले में गिरे होते तो अब तक उनकी लाश बाहर आ गई होती और वैसे भी पुलिस और परिवार वाले इसके लिए हर स्तर से प्रयास कर चुके हैं।

उन्होंने कहा कि वे स्थानीय पुलिस की कार्यप्रणाली पर न तो कड़ी टिप्पणी कर रहे और न ही असंतोष जाहिर कर रहे हैं लेकिन पुलिस प्रशासन को प्रोफेशनल तरीके से गोडधईया नाले में डूबने के अलावा गायब होने के अन्य कारणों पर गम्भीरता से खोजबीन करनी चाहिए था । डूबने, फिरौती और निजी दुश्मनी का मामला नहीं है तो फिर यह शुद्ध सुनियोजित अपराधिक कृत्य है और हर बीतता हुआ दिन बच्चों के वापस मिलने की सम्भावना को कम ही करेगा ।

प्रमुख सचिव गृह तथा महानिदेशक दोनों ने नगर विधायक को आश्वस्त किया कि वे मामले को अपने संज्ञान में ले रहे हैं और बच्चों को ढूढ़वाने के हर सम्भव प्रयास किये जायेंगे।

नगर विधायक डाक्टर राधा मोहन दास अग्रवाल ने केरल से लौटकर कल सीधे घोषीपुरवा शाहपुर जाकर आफताब आलम के परिवार के सभी सदस्यों से मुलाकात की और हर सदस्य से अलग-अलग बात करके दोनों बच्चों के गायब होने के बारे में सभी तथ्यों को जानने का प्रयास किया ।

बातचीत के बाद नगर विधायक ने पुलिस महानिरीक्षक जय नरायन सिंह से बात की थी और उन्हें बच्चों के परिवार वालों की पीड़ा से अवगत कराया।  उन्होंने कहा परिवार वाले यह कह रहे हैं कि  पुलिस प्रशासन लगातार उन्हें यह बताने की कोशिश कर रहा है कि दोनों बच्चे घर के पीछे बह रहे गोडधईया नाले में डूबकर मर गये।  जब की पुलिस एनडीआरएफ तथा अन्य विशेषज्ञों से पूरा नाला छनवा चुकी है।

नगर विधायक ने कहा कि मोहल्ले के ही तीन लोगों मोहम्मद हुसैन,अब्दुल और सोनू अली ने पूरा 5 घण्टे लगाकर नाले का चप्पा चप्पा छान मारा । उन्होंने सहजनवा से एक अनुभवी गोताखोर बुलवाकर पूरे दो घण्टे उस 5 फिट गहरे की छानबीन करवाई । अगर वह दोनों बच्चे नाले में होते तो 9 दिनों में तो अब तक उनकी लाश बाहर आ गई।

नगर विधायक ने पुलिस महानिरीक्षक से कहा कि पार्षद अफरोज उर्फ़ गब्बर के अनुसार  विगत दिनों भेडियागढ के जावेद अहमद की लड़की इकरा को एक बुर्कानशी औरत ने घर के दरवाजे से ही उठाने का प्रयास किया,लडकी के कस कर दांत काट लेने के कारण वह असफल हो गई।

नगर विधायक ने कहा कि पुलिस को अब बाल-अपहरण करने वाले पुराने अपराधियों पर भी निगाह डालने की जरूरत है। यह प्रतीत होता है कि न तो बच्चे अब गोडधईया नाले में हैं और न ही फिरौती आदि के लिये उनका अपहरण हुआ है। बच्चों को खोजने में जितनी देर होगी, नागरिकों की हिम्मत टूटेगी और असामाजिक तत्व इसका दुरुपयोग करेंगे।

नगर विधायक के साथ क्षेत्रीय पार्षद मंतालाल यादव तथा बगल क्षेत्र के पार्षद अफरोज उर्फ़ गब्बर, भाजपा मण्डल अध्यक्ष रमेश गुप्ता, वरिष्ठ भाजपानेत्री मीरा दूबे, महामंत्री डीएन यादव तथा अजय मणि त्रिपाठी, नदीम अली,संजय भारती,आलोक भारती,नागेन्द्र मिश्रा आदि उपस्थित थे।

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz