स्वास्थ्य

देवरिया में घर पहुंचकर रोगियों का इलाज कर रही मोबाइल मेडिकल यूनिट

मेडिकल मोबाइल यूनिट

जिले के 4011 मरीजों का किया इलाज 

हर ब्लाक में 15 दिनों के लिए होती है तैनाती 

देवरिया,  जिले में मार्च में आई मेडिकल मोबाइल यूनिट (एमएमयू) ग्रामीण मरीजों के लिए संजीवनी बन गई है. दूर-दराज के ग्रामीणों को घर के पास इलाज मिल रहा है. एमएमयू की लोकप्रियता बढ़ती जा रही है. अस्पताल की पहुंच से दूर रहने वाली आबादी को बेहतर चिकित्सकीय सेवा देने के लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) के तहत इसका संचालन किया जा रहा है. इस यूनिट के जरिये 5 माह  में 4011 मरीजों का इलाज किया गया. ग्रामीणों को चिकित्सीय सलाह व जांच के साथ मुफ्त दवा भी मिल रही है.

सीएमओ डॉ धीरेन्द्र कुमार ने बताया कि जिले में दो एमएमयू से ग्रामीण क्षेत्रों में बीमार लोगों को इलाज दिया जा रहा है. एक ग्रामीण क्षेत्र में यह यूनिट प्रत्येक 15 दिन बाद पहुंचती है. अबतक 4011  मरीजों को इस मोबाइल यूनिट से इलाज मुहैया कराया जा चुका है. इसके साथ ही 663  जांच व 208 स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया है. फिलहाल  इस समय एक मोबाइल मेडिकल यूनिट की तैनाती भलुअनी दूसरे की तैनाती रामपुर कारखाना ब्लाक में है. सार्वजनिक अवकाश पर भी यह यूनिट लोगों के इलाज के लिए उपलब्ध होती है. ऐसे ग्रामीण इलाके जो प्राथमिक व सामुदायिक स्वाथ्य केंद्र से  दूर हैं, उन जगह का चयन मरीजों तक उपचार पहुंचाने के लिए किया जाता है.

डीसीपीएम डॉ राजेश गुप्ता ने बताया कि मोबाइल मेडिकल यूनिट एक प्रकार का सचल अस्पताल है. एमएमयू को कहां जाना है ये जिले के मुख्य चिकित्साधिकारी तय करते हैं. एमएमयू में डाक्टर, स्टाफ नर्स, फार्मासिस्ट, लैब टेक्नीशियन व ड्राइवर मौजूद रहते है. एमएमयू में मरीज का ऑनलाइन पर्चा बनता है. मरीज का पंजीकरण करके डॉक्टर, लैब टेक्नीशियन, नर्स उसे इलाज मुहैया कराती हैं. जांच के साथ ही संक्रामक रोगों की स्क्रीनिंग, ईसीजी व खून की शुरुआती जांचों की सुविधा भी इसमें दी जाती है. इसमें खून की जांच, ईसीजी, शुगर, सांस संबंधी परेशानी की जांच  की सुविधा है. उन्होंने यह भी बताया कि इसकी मॉनिटरिंग जीपीएस सिस्टम द्वारा सेंट्रलाइज्ड कंट्रोल रूम लखनऊ से की जाती है.

कभी सोचा न था घर मिलेगा निशुल्क इलाज

 ग्रामीणों ने मोबाइल मेडिकल यूनिट में उपलब्ध सेवा की सराहना करते हुए खुशी जाहिर की. रामपुरकारख़ाना की  रामा देवी ने बताया कि उन्हे कई दिनों से चक्कर आने की समस्या है उन्होने एमएमयू में डाक्टर को दिखाया है ,डक्टर ने जांच कराने के साथ ही दवा भी दी है. उन्होने कहा कि पहले प्रथामिक उपचार के लिए काफी दूर जाना पड़ता था पर अब गाँव मे ही एमएमयू आने से निःशुल्क दवा भी तुरंत मिल गयी. कभी नही सोंचा था कि कोई चलता फिरता अस्पताल हमारे दरवाजे पर आएगा और हमे निशुल्क इलाज प्राप्त होगा.

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz