समाचार

पूर्वोत्तर रेलवे के कार्मिक विभाग को राजभाषा प्रयोग के लिये प्रथम चल शील्ड मिला

गोरखपुर 20 अगस्त: पूर्वोत्तर रेलवे के कार्मिक विभाग गोरखपुर को कामकाज में राजभाषा के उल्लेखनीय प्रयोग के लिये प्रथम चल शील्ड से पुरस्कृत किया गया है. यह जानकारी आज  राजभाषा समीक्षा बैठक के दौरान उप मुख्य कार्मिक अधिकारी व राजभाषा संपर्क अधिकारी सी पी दूबे ने दी. समीक्षा बैठक के पश्चात  गीतकार गोपाल दास नीरज की स्मृति में एक साहित्यिक संगोष्ठी भी आयोजित की गयी.

गीतकार गोपाल दास नीरज याद किये गये, 15 कर्मचारियों को राजभाषा में उत्कृष्ट कार्य के लिये पुरस्कार

समीक्षा बैठक को सम्बोधित करते हुये श्री दूबे ने कहा कि  भारत सरकार की राजभाषा नीति का शत-प्रतिशत अनुपालन व प्रचार प्रसार हम सभी का संवैधानिक दायित्व है . उन्होंने संतोष व्यक्त करते हुये कहा कि इस विभाग के शासकीय कामकाज में हिन्दी के प्रयोग में उल्लेखनीय वृद्धि हुई है तथा सूचना तकनीकी सम्बन्धी क्रियाकलापों में भी हिन्दी प्रयोग का समावेश हुआ है. श्री दूबे ने सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों से  क्रिस द्वारा विकसित राजभाषा मोबाइल एप को मोबाइल में डाउनलोड कर उपयोग करने की अपील की.

इस अवसर पर प्रसिद्ध कवि और गीतकार गोपाल दास ‘नीरज‘ पर एक गोष्ठी आयोजित की गई. श्रीमती अनामिका सिंह, वरिष्ठ अनुवादक ने कवि नीरज के व्यक्तित्व व कृतित्व पर प्रकाश डाला .  बैठक में राजभाषा में उत्कृष्ट कार्य के लिये कुल 15 कर्मचारियों को पुरस्कृत किया गया .

बैठक का समन्वयन श्री भगवान चौधरी, कार्यालय अधीक्षक ने किया तथा धन्यवाद ज्ञापन श्री शिवशंकर राव, कार्यालय अधीक्षक ने किया. इस अवसर पर कार्मिक विभाग के रेलकर्मी उपस्थित रहे.

 

Leave a Comment