समाचार

हिरासत में लिए सांसद प्रवीण निषाद को तीन घंटे बाद छोड़ा गया, विरोध में आज धरना-प्रदर्शन

गोरखपुर. निषाद पार्टी की आरक्षण हल्ला बोल रैली के बाद गोरखनाथ मंदिर स्थित सीएम के कैम्प कार्यालय को गयापन देने जा रहे गोरखपुर के सांसद प्रवीण निषाद, उनके भाई श्रवण निषाद और दर्जनों कार्यकर्ताओं पर लाठी और पानी की बौछार करने के बाद करीब तीन घंटे तक पुलिस ने हिरासत में रखा. रात नौ बजे सभी को छोड़ दिया गया.

निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ संजय कुमार निषाद ने कहा कि पुलिस लाठीचार्ज में सांसद सहित दो दर्जन कार्यकर्ताओं को चोट लगी है. दो महिला कार्यकर्ताओं सहित छह को सिर, बांह, पैर में चोट लगी है. दो को मेडिकल कालेज और चार को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

उन्होंने कहा कि रैली के बाद सांसद के नेतृत्व में कार्यकर्ता शांतिपूर्ण तरीके से ज्ञापन देने जा रहे थे. पार्टी ने मछुआ आरक्षण शासनादेश का पालन कराने के लिए 20 जनवरी को कमिश्नर को ज्ञापन दिया था लेकिन उस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई. इसलिए आज सीएम के कैम्प आफिस को ज्ञापन देने निषाद समुदाय जा रहा था लेकिन पुलिस ने बेवजह उन पर लाठीचार्ज किया. दमकल की गाड़ी से पानी की बौछार की. महिला कार्यकर्ताओं और गाड़ी में बैठे लोगों पर भी लाठी बरसाई गई. सांसद की गाडी के शीशे तोड़ दिया गए.

उन्होंने आरोप लगाया कि गोरखपुर उपचुनाव में हुई हार और लोकसभा चुनाव में दुबारा हार की आशंका से योगी सरकार बौखलाई हुई है और उसने निषाद समुदाय से बदला लेने के लिए लाठीचार्ज कराया है. लाठीचार्ज के विरोध में कल से हर जिले में धरना -प्रदर्शन किया जायेगा.

समाजवादी पार्टी ने गोरखपुर के सांसद इंजीनियर प्रवीण निषाद के ऊपर लाठीचार्ज के विरोध में आठ मार्च को दोपहर 12 बजे नगर निगम पार्क में विशाल धरना देने की घोषणा की है. सपा के महानगर महासचिव सिंहासन सिंह यादव ने समाजवादी पार्टी के सभी नेताओं, पदाधिकारियों ,पार्षदों, पूर्व पार्षदों, जोनल प्रभारी, सेक्टर प्रभारी, प्रधान, ब्लाक प्रमुख, जिला पंचायत सदस्य, वार्ड अध्यक्ष से धरना आने को कहा है.

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz