समाचार

पूर्वांचल सेना ने छात्र संगठन अंबेडकराइट स्टूडेंट यूनियन फॉर राइट्स (असुर) बनाया

  • 103
    Shares

गोरखपुर: प्रेस क्लब सभागार में आज सदर सांसद इंजीनियर प्रवीण कुमार निषाद की उपस्थिति में पूर्वांचल सेना के संरक्षक योगेंद्र सिंह, धर्मेंद्र कुमार व पूर्वांचल सेना के अध्यक्ष धीरेंद्र प्रताप ने पूर्वांचल सेना के छात्र संगठन अंबेडकराइट स्टूडेंट यूनियन फॉर राइट्स (ASUR)  के गठन की घोषणा की.

इस मौके पर सदर सांसद इंजीनियर प्रवीण कुमार निषाद ने कहा कि लोकतंत्र में छात्र संगठनो की अति महत्वपूर्ण भूमिका है. उन्होंने नवगठित छात्र संगठन ASUR से समाज व देश हित के लिए उत्कृष्ट कार्यों को करते हुए समाज व देश की बेहतर बनाते हुए देश में लोकतंत्र को मजबूती प्रदान करते रहने की आशा के साथ अपनी शुभकामनाएं दी.

 पूर्वांचल सेना के अध्यक्ष धीरेंद्र प्रताप ने कहा कि पूर्वांचल की विभिन्न शैक्षणिक संस्थाओ में बार बार छात्रो के संवैधानिक और लोकतांत्रिक अधिकारों के हनन की खबर आती रहती है. असुर ( ASUR) इन्ही अधिकारों की रक्षा के संगठित प्रयास हेतु गठित किया गया है. यह संगठन पूर्वांचल की शिक्षण व्यवस्था को दुरुस्त करने, शिक्षण संस्थानों में व्याप्त भ्रष्टाचार को समाप्त करने के साथ छात्र- छात्राओं के पठन- पाठन में आने वाली दिक्कतों के खिलाफ आवाज उठाएगा.

   उन्होंने “अंबेडकराइट स्टूडेंट यूनियन फॉर राइट्स” के नामकरण के बारे में बताते हुए कहा कि, यह आधुनिक भारत के निर्माता भारत रत्न बाबा साहेब डा. अम्बेडकर के समता, स्वतंत्रता, न्याय व बंधुत्व  की विचारधारा से प्रेरित है. यह छात्र संगठन  “अधिकारों के लिए विमर्श खड़ा करने वाला अंबेडकरवादी छात्रों का एक समूह है. उन्होंने इस नाम के लघु रूप “ASUR” के बारे में बताते हुए कहा कि “असुर” एक भारतीय मूलनिवासी जनजाति है जो लोहा ढालने-पीटने और उससे औजार बनाने का कार्य करते थे . वर्तमान के औद्योगीकरण ने इनका रोजगार छीन लिया है. इस जनजाति के लोग झारखंड बिहार और दक्षिण भारत के जंगली एरिया में निवास करते हैं । आर्यों से संघर्ष के पूर्व इनकी एक सुसंस्कृति सभ्यता थी,  वर्तमान में इस जनजाति के लोग जंगलों में मौजूद प्राकृतिक संपदा को बचाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं, हमारा इस छात्र संगठन का लघु नाम उन्ही के संघर्ष से प्रेरित है ।

इस अवसर पर छात्र संगठन के संयोजक मंडल की कु. सुनीता चौहान, कुमारी ममता, पिंकी भारती, अरुणिमा भारती, रिया पटेल, सभ्या यादव, शिवांगी गुप्ता, रागिनी भारती, कुमारी दिव्या सिंह, तान्या सिंह, सोनू सिद्धार्थ, प्रशांत कुमार, अविनाश कुमार, संजय यादव, अमित सिंघानिया, सनी निषाद, सुधीरम रावत, मंजेश कुमार, शनि देव कन्नौजिया, रणविजय कपूर, विनय कुमार मौजूद थे.

Add Comment

Click here to post a comment