जनपद

रेल कर्मियों के हित के लिये तत्पर है रेलवे- राजीव अग्रवाल

  • 5
    Shares

रेल की मान्यता प्राप्त यूनियन संग दो दिवसीय पीएनएम का शुभारंभ
रेलवे प्रेस की बंदी पर पुनर्विचार करे प्रबंधन- के एल गुप्त

गोरखपुर, 30 जुलाई; आज पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबन्धक राजीव अग्रवाल की अध्यक्षता में रेलवे की मान्यता प्राप्त यूनियन के साथ दो दिवसीय स्थाई वार्ता तंत्र (पीएनएम) का शुभारम्भ महाप्रबन्धक बैठक कक्ष में किया गया. इस अवसर पर सभी प्रमुख विभागाध्यक्ष, पूर्वोत्तर रेलवे मजदूर यूनियन के महामंत्री के.एल.गुप्ता, अध्यक्ष बसन्त चतुर्वेदी, संयुक्त मंत्री नवीन मिश्रा, तीनों मंडलों के मंडल मंत्री तथा यूनियन के अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे.
महाप्रबन्धक ने कहा कि रेलवे प्रशासन अपने कर्मचारियों के हित की रक्षा के लिये सदैव तत्पर रह रहा है. ताकि रेलकर्मी स्वस्थ एवं तनाव मुक्त होकर रेल संचलन में अपनी भागीदारी कर सके. महिला रेलकर्मियों के लिये प्रमुख स्टेशनों पर महिला रेस्ट रूम तथा कपड़ा बदलने के लिये अलग से कक्ष की व्यवस्था करायी जा रही है. इसी क्रम में महिला कान्सटेबल की भर्ती को ध्यान में रखकर तीनों मंडलों में अलग से महिला बैरक निर्माण की प्रक्रिया चल रही है. रेलकर्मियों के स्वास्थ्य की जांच अभियान चलाकर की जा रही है. रेल अस्पतालों में रिक्त चिकित्सकों एवं नर्सिंग स्टाफ के पदो को संविदा के आधार पर भरा जा रहा है. रेलवे अस्पताल में दवा की कमी को दूर करने के लिये रेट कांट्रेक्ट के माध्यम से दवा खरीद की प्रक्रिया शुरू की गयी है. सेवा निवृत्त होने वाले रेलकर्मियों के समापक देयक का भुगतान तथा मृत रेलकर्मियों के आश्रितों की नियुक्ति समय से की जा रही है.

इसके पूर्व, महाप्रबन्धक एवं यूनियनों प्रतिनिधियों का स्वागत करते हुए प्रमुख मुख्य कार्मिक अधिकारी एल.बी.राय ने स्थाई वार्ता तंत्र के महत्व पर प्रकाश डाला तथा बेहतर रेल संचलन के लिये इस बैठक को उपयोगी बताया. इस अवसर पर पूर्वोत्तर रेलवे मजदूर यूनियन के महामंत्री के.एल. गुप्ता ने रेल कर्मचारियों के विभिन्न समस्याओं का क्रमवार चर्चा की तथा महाप्रबन्धक से अपने स्तर से नियमसंगत आदेश जारी करने का अनुरोध किया. श्री गुप्ता ने रेलवे प्रेस के बन्दीकरण तथा वहां के कर्मचारियों के समायोजन पर चर्चा करते हुए कर्मचारियों को दूसरे विभाग में समायोजित करने के लिये अलग से बैठक करने का अनुरोध किया. रेल मजदूर यूनियन के अध्यक्ष बसन्त चतुर्वेदी ने रेल कर्मियों के विभिन्न समस्याओं की ओर महाप्रबन्धक का ध्यान आकृष्ट किया. श्री चतुर्वेदी ने छोटे स्टेशनों पर रेलकर्मियों के आवासों तथा उनको मिलने वाले अन्य लाभों पर अधिक ध्यान देने का महाप्रबन्धक से अनुरोध किया. श्री चतुर्वेदी ने गेट मैन तथा ट्रैकमैन की सुरक्षा एवं उनकी मूलभूत सुविधाओं की ओर प्रशासन का ध्यान आकृष्ट किया.
बैठक में पूर्व निर्धारित एजेण्डा पर क्रमवार ढ़ंग से चर्चा कर समस्याओं के समाधान हेतु समुचित निर्णय लिया गया तथा इसके क्रियान्वयन हेतु संबंधित वरिष्ठ रेल अधिकारी एवं यूनियन प्रतिनिधि को नामित किया.

Skip to toolbar