समाचार

इंकलाबी नौजवान सभा का राज्य सम्मेलन 16 मार्च को गोरखपुर में, रोजगार अधिकार मार्च निकलेगा

गोरखपुर. मोदी सरकार की युवा विरोधी, रोजगार विरोधी, सामाजिक न्याय विरोधी नीतियों के खिलाफ कल पूरे प्रदेश का युवा गोरखपुर में एकजुट होगा. “नफ़रत-उन्माद मत फैलाओ, ये बताओ रोजगार कहां है  “, ” जुमला नहीं जवाब दो – 5 साल का हिसाब दो ” नारे के साथ इंकलाबी नौजवान सभा (आरवाईए) का राज्य सम्मेलन 16 मार्च को दोपहर 12 बजे से हैप्पी मैरेज हाल में होगा.

आरवाईए  के राज्य सचिव राकेश सिंह ने आज भाकपा माले कार्यालय पर आयोजित प्रेस वार्ता में राज्य सम्मेलन की जानकारी देते हुए कहा कि सम्मेलन में शहर के गणमान्य नागरिकों के साथ रोजगार आंदोलन के प्रतिनिधि भी शामिल होंगे.

सम्मेलन से पूर्व पूर्वान्ह 11 बजे से गोरखपुर रेलवे स्टेशन से सम्मेलन स्थल तक ( हैप्पी मैरिज हॉल) तक रोजगार अधिकार मार्च निकाला जाएगा.

उन्होंने कहा कि केंद्र व प्रदेश की भाजपा सरकार ने नौजवानों को रोजगार देने व भ्रष्टाचार मुक्त पारदर्शी परीक्षा का वादा किया, लेकिन आज बेरोजगारी व भ्रष्टाचार कम होने के बजाय बढ़ गया. पिछले 45 साल में बेरोजगारी की दर सबसे ज्यादा है. बेशर्म सरकार नौजवानों को पान बेचो-पकौड़ा बेचो -पंचर बनाओ-बैंडबाजा बजाओ की बात कहकर नौजवानों का मजाक उड़ा रही हैं. भ्रष्टाचार के मामले में पिछली सरकार के सारे रिकॉर्ड टूट गए. परीक्षा से पहले पेपर लीक व आंसर की जारी होना इस सरकार की पहचान बन गयी है.

आरवाईए के राज्य सचिव राकेश सिंह, राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य सुनील मौर्य और भाकपा माले के जिला सचिव राजेश साहनी

युवाओं के आंदोलन के दबाव में सरकार को 200 प्वाइंट रोस्टर पर अध्यादेश लाना पड़ा लेकिन भीम आर्मी द्वारा दलितों पर दमन व आदिवासियों की बेदखली के खिलाफ आयोजित यात्रा को रोककर उसने अपना चेहरा उजागर कर दिया. उन्होंने आज दिल्ली में आयोजित हुँकार रैली समर्थन करते हुए कहा कि
सरकार द्वारा तेजी से फैलाए जा रहे नफरत – युद्ध उन्माद व दमन के खिलाफ रोजगार , सामाजिक न्याय व सम्मान के लिए इंनौस की लड़ाई तेज होगी.

प्रेस कांफ्रेंस में इनौस के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य सुनील मौर्य व भाकपा माले के जिला सचिव राजेश साहनी मौजूद रहे.

Leave a Comment