समाचार

बालिका गृह कांड : देवरिया की सीडब्ल्यूसी के काम पर रोक, अब महराजगंज की सीडब्ल्यूसी देखेगी काम

जिला बाल कल्याण समिति देवरिया के अध्यक्ष और सदस्य अपने कार्यालय में

देवरिया. सराकर के आदेश पर देवरिया जिले की बाल कल्याण समिति के काम काज पर रोक लगा दी गई है. देवरिया जिले का काम अब महराजगंज जिले की बाल कल्याण समिति देखेगी.

यह आदेश दो दिन पहले ही सरकार की तरफ से आया है. शनिवार को देवरिया जिले की बाल कल्याण समिति अपना काम काज महराजगंज की बाल कल्याण समिति को सौंप देगी.

देवरिया की बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष श्रीकांत यादव ने इस बात की पुष्टि की कि उनकी समिति के काम काज पा रोक लगा दी गई है.

उन्होंने कहा कि हमने अपना काम बखूबी निभाया. मां विध्यवासिनी संस्थान द्वारा संचालित बालिका गृह को बंद करने का आदेश जैसे ही समिति को मिला, समिति ने इसकी जानकारी प्रशासन व पुलिस को दी और बालिका गृह को बंद कराने को कहा. हमने कई बैठकों में इसे मामले को उठाया लेकिन प्रशासन ने सहयोग नहीं किया. हमने प्रशासन व पुलिस को भी यह जानकारी दी कि पुलिस बालक बालिकाओं को बाल कल्याण समिति के सामने प्रस्तुत करने के बजाय सीधे बालिका गृह में ले जा रही है. यह जानकारी देने के बावजूद प्रशासन व पुलिस ने हमारी बात पर ध्यान नहीं दिया.

देवरिया बाल कल्याण समिति का गठन दिसम्बर 2016 को हुआ था. इसमें अध्यक्ष श्रीकांत यादव के अलावा चार सदस्य थे जिनमें तीन महिलाएं थीं.

Leave a Comment