समाचार

राप्ती नदी की धारा बदले जाने की योजना के खिलाफ चुनाव बहिष्कार के बैनर लगे

गोरखपुर। राप्ती नदी की धारा मोड़े जाने के खिलाफ बेलीपार क्षेत्र के करंजही, अइमा, कतरारी, नवापार आदि गांवों के लोग चुनाव बहिष्कार की घोषणा के प्रति गंभीर हैं। चुनाव बहिष्कार की घोषणा के तीन दिन बाद कई गांवों और चौराहों पर चुनाव बहिष्कार के बैनर लगा दिए गए हैं।

इन गांवों के लोगों ने 14 अप्रैल को करंजही गांव में नदी के किनारे संकल्प सभा कर राप्ती नदी की धारा बदलने की योजना का विरोध करते हुए आंदोलन की घोषणा की थी। आंदोलन चलाने के लिए नदी बचाओ-गांव बचाओ संघर्ष समिति का भी गठन किया गया।

आंदोलन के तहत चुनाव बहिष्कार का भी ऐलान किया गया था। इस ऐलान के बाद 16 अप्रैल को करंजही, बेला गांव में चुनाव बहिष्कार का बैनर लगा दिया गया है। यह बैनर नदी बचाओ-गांव बचाओ संघर्ष समिति की ओर से लगाया गया है। बैनर पर लिखा गया है कि ‘ करंजही गांव के पास राप्ती नदी की धारा मोड़कर करंजही, अइमा, नवापार, कतरारी आदि गांवों को विस्थापित करने की उत्तर प्रदेश सरकार की साजिशी योजना के खिलाफ इन सभी गांवों में लोकसभा चुनाव का बहिष्कार होगा। कोई मतदान नहीं होगा, कोई प्रत्याशी, नेता का प्रवेश नहीं होगा। ’

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz