समाचार

प्रभारी मंत्री ने रामगढ़ताल को 10 दिन में जलकुम्भी मुक्त करने को कहा

गोरखपुर।   प्रदेश के समाज कल्याण मंत्री एवं गोरखपुर के प्रभारी मंत्री रमापति शास्त्री ने आज एनेक्सी सभागार में विकास कार्यक्रमों की समीक्षा बैठक में राजस्व वादों को प्रमुखता के आधार पर निस्तारित करने, रामगढ़ताल को 10 दिन के अन्दर जलकुम्भी मुक्त करने और मार्च तक चिड़ियाघर निर्माण कार्य पूर्ण कर लेने के निर्देश अधिकारियों को दिये।

प्रभारी मंत्री ने योजनाओं की समीक्षा करते हुए कहा कि निर्माण कार्य गुणवत्तापूर्ण एवं समयबद्ध ढंग से पूर्ण किये जायें और कार्यों का सत्यापन अवश्य हो।

समीक्षा के दौरान अधिकारियों ने प्रभारी मंत्री की बताया कि भूमाफिया, अवैध खनन के विरूद्ध दोषियों पर कार्यवाही की गयी है तथा भूमाफियाओं से अवैध कब्जा हटवाया गया है। निराश्रित गोवंश आश्रय स्थल की समीक्षा के दौरान बताया गया कि जनपद में पर्याप्त आश्रय स्थल है जिसमें 5032 गोवंश संरक्षित है. आयुष्मान भारत योजना की समीक्षा के दौरान बताया गया कि 83 अस्पतालों में इस योजना के तहत सेवाएं प्रदान की जा रही है। प्रभारी मंत्री ने निर्देश दिये कि मार्च के अन्त तक इस योजना के तहत शत प्रतिशत पात्र लाभार्थियों को लाभान्वित किया जाये।

धान खरीद की समीक्षा के दौरान बताया गया कि अब तक लगभग लक्ष्य के सापेक्ष 82 प्रतिशत की खरीद की जा चुकी है. प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण की समीक्षा के दौरान बताया गया कि लक्ष्य के सापेक्ष शत प्रतिशत प्रगति फरवरी तक कर ली जायेगी, शहरी क्षेत्रों में 90 प्रतिशत की प्रगति बताई गयी। श्री शास्त्री ने कहा कि आवास बनने के पश्चात इसकी मानीटरिंग भी की जाये।

राष्ट्रीय आजीविका मिशन के संबंध में प्रभारी मंत्री ने निर्देश दिया कि इस रोजगारपरक योजना के तहत समूहों का गठन कराकर उन्हें क्रियाशील किया जाये। स्वच्छ पेयजल की समीक्षा के दौरान उन्होंने कहा कि जल की गुणवत्ता की जांच की जाये, हैण्डपम्पों को ठीक स्थिति में रखा जाये तथा पाइप पेयजल योजना के तहत शीघ्र कार्यवाही पूर्ण की जाये। उन्होंने पेंशन योजना के तहत कहा कि कोई भी पात्र लाभार्थी पेंशन से वंचित नही होना चाहिए। कन्या सुमंगला योजना के संबंध में बताया गया कि अब तक 20771 आनलाइन आवेदन प्राप्त हुए है जिसके सापेक्ष 12760 का सत्यापन कराया जा चुका है और 5320 पात्र लाभार्थी पाये गये है। प्रभारी मंत्री ने कहा कि यह शासन की महत्वपूर्ण योजना है इसमें समयबद्ध ढंग से प्रगति लाई जाये।

प्रभारी मंत्री ने आगनवाड़ी केन्द्रों के निरीक्षण, पंजीरी वितरण कराने के निर्देश देते हुए बीएसए को निर्देश दिये कि वे प्राथमिक विद्यालय का निरीक्षण कराते रहे, अध्यापकों/छात्रों की उपस्थिति शत प्रतिशत हो, शिक्षा की गुणवत्ता बेहतर हो तथा सभी विद्यालय में एमडीएम बने। सिंचाई विभाग की समीक्षा के दौरान बताया गया कि जनपद में कुल 1136 नलकूप है जिसमें 29 यांत्रिक/विद्युत दोष से बन्द है। मंत्री ने निर्देश दिये कि सिंचाई के दृष्टिगत एक सप्ताह के अन्दर बन्द नलकूपों को चालू किया जाये। इसी क्रम में यह भी बताया गया कि जनपद में कुल 77 नहरें है जिसकी लम्बाई 596 किमी0 है, 66 नहरों में पानी पहुंच गया है। मंत्री जी ने अवशेष 11 नहरों में एक सप्ताह में अन्दर पानी पहुंचाने के निर्देश दिये।

इस अवसर पर जिलाधिकारी के0 विजयेन्द्र पाण्डियन, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डा0 सुनील गुप्ता, मुख्य विकास अधिकारी हर्षिता माथुर सहित विभिन्न विभागों के संबंधित अधिकारी गण उपस्थित रहे।

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz