समाचार

हजारों लोगों ने दी शहीद पंकज त्रिपाठी को अंतिम विदाई

शहीद के तीन वर्षीय पुत्र प्रतीक ने त्रिमुहानी घाट पर दी मुखाग्नि

शहीद के गाँव से लेकर त्रिमुहानी घाट तक न लगा रहा राजनेताओं व अधिकारी का तांता

महराजगंज। कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद हुए फरेंदा क्षेत्र के हरपुर गांव निवासी पंकज त्रिपाठी को हजारों लोगों ने नम आंखों से की अंतिम विदाई दी. शहीद के तीन वर्षीय पुत्र प्रतीक ने त्रिमुहानी घाट पर मुखाग्नि दिया। सेना के जवानों ने शहीद को सलामी दी।

शहीद का शव शनिवार को दोपहर में जब उसके गांव पहुंचा तो गम और गुस्से के बीच जम कर नारेबाजी होने लगी। लोग एक तरफ जहां पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगा रहे थे तो दूसरी ओर पंकज अमर रहे का नारा भी गूंज रहा था।


शहीद के मकान पर उसका चित्र रखा गया था, जिस पर पुष्प अर्पित कर लोग श्रद्धांजलि दे रहे थे। शहीद को श्रद्धांजलि देने के लिए तथा उसके शव यात्रा में शरीक होने के लिए अधिकारियों, कर्मचारियों, राजनेताओं का दिन भर आना जाना लगा रहा।

शनिवार को सवेरे से ही लोगों का जमावड़ा शहीद पंकज के गाँव हरपुर लगा था, मगर जैसी शहीद का शव उसके गांव पहुंचा तो गांव व आसपास कोहराम सा मच गया।

लोग शहीद के अंतिम दर्शन को उमा पङे। जिले के प्रभारीमंत्री रमापति राम शास्त्री, सांसद पंकज चौधरी, फरेंदा विधायक बजरंग बहादुर सिंह, सदर, विधायक जयमंगल कन्नौजिया, पनियरा विधायक ज्ञानेन्द्र सिंह, कांग्रेस की वरिष्ठ नेता तलत अजीज, वीरेन्द्र चौधरी, जिलाधिकारी अमरनाथ उपाध्याय , पुलिस अधीक्षक रोहित सिंह सजवान, प्रभागीय वनाधिकारी मनीष सिंह, आदि लोग शहीद के घर जाकर श्रद्धाजलि दी तथा त्रिमुहानी घाट पर जाकर अंतिम विदाई दी।

कांग्रेस विधान मंडल दल के नेता अजय कुमार लल्लू भी शहीद पंकज त्रिपाठी की अंतिम यात्रा में शामिल हुए. उन्होंने परिवारजनों से मिलकर अपनी संवेदना व्यक्त किया व ढांढस बंधाया.

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz