स्वास्थ्य

घर-घर में होगी टीबी रोगियों की पहचान: सीएमओ

देवरिया में क्षय रोग के प्रति जागरूकता अभियान की रैली निकालते स्वास्थ्य विभाग के कर्मी

निकाली गई जन जागरूकता रैली , चलेगा अभियान

देवरिया। राष्ट्रीय क्षय नियंत्रण कार्यक्रम के तहत क्षय रोगियों की खोज अभियान के शुभारम्भ पर बुधवार को टीबी अस्पताल से जन जागरूकता रैली निकली गई। रैली को मुख्य चिकित्साधिकारी (सीएमओ) डॉ धीरेन्द्र कुमार ने टीम को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया। उन्होंने कहा कि घर- घर रोगियों की पहचान करने का कार्यक्रम 10 से 23 अक्टूबर तक चलेगा।
रैली जिला अस्पताल से शुरू होकर सिविल लाइन, डीएम आवास, कोतवाली रोड, मोतीलाल रोड, पुलिस लाइन होते लोगों को जागरूक करते हुए जिला अस्पताल पहुंची।
जिला क्षय रोग अधिकारी डा. बी झा ने बताया कि इसके लिए जनपद में 120 टीमें बनाई गई हैं। इसमें 25 पर्यवेक्षक, 16 सेक्टर चिकित्साधिकारियों के साथ जोनल अधिकारियों की तैनाती की गई है। इस कार्यक्रम के तहत टीम घर घर जाकर क्षय रोग के लक्षणों के बारे में पूछताछ करेगी। दो सप्ताह से ज्यादा खांसी, बलगम, आना, बलगम में खून आना, लंबे समय से बुखार आना, भूख न लगना, वजन घटना, सीने में दर्द जैसे लक्षण मिलने पर जांच करायी जाएगी। इन लक्षणों के मिलने पर टीम मरीज के बलगम का सेंपल लेगी। जांच में क्षय रोग की पुष्टि होने पर दो दिन के अंदर उसे टीबी की दवा देना शुरू कर दिया जाएगा। जांच और दवा निशुल्क दी जाएगी। उपजिला क्षय रोग अधिकारी डा. आरपी यादव ने बताया कि सरकार द्वारा देश एवं प्रदेश को वर्ष 2025 तक क्षय रोग से मुक्त करने का लक्ष्य दिया गया है। इसी दिशा में क्षय रोग खोज अभियान चलाया जा रहा है। इस लक्ष्य की प्राप्ति हेतु विभाग ने कमर कस ली है।
इस अवसर पर देवेंद्र प्रताप सिंह, डॉ संदीप कुमार, मृत्युंजय पांडेय, डीसीपीएम राजेश गुप्ता, चंद्र प्रकाश त्रिपाठी, सुनील सिंह, अभिषेक कुमार सिंह, उदयभान उपध्यान, धर्मेंद्र तिवारी, संजय यादव, विजय विश्वकर्मा, धन्नजय सिंह प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

ढाई हजार से अधिक मरीजों का चल रहा इलाज
जिला समन्यवक देवेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि जिले में चेले पिछले अभियान सहित जिला अस्पताल में आये 2846 टीवी के मरीजों का इलाज विभाग द्वारा किया जा रहा है। मरीज दवा की प्रत्येक खुराक क्षय रोग विभाग में आकर लेते है।

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz