स्वास्थ्य

टीकाकरण का लाभ बताने के लिए यूनीसेफ की मदद से संवेदित किए गए मदरसों के शिक्षक

गोरखपुर.  गोरखपुर और इसके आसपास के जनपदों के मदरसों में पढ़ाने वाले 60 शिक्षक, बच्चों और उनके अभिभावकों के बीच टीकाकरण के लाभ का संदेश लेकर जाएंगे। इन सभी शिक्षकों को यूनीसेफ की मदद से बक्शीपुर स्थित हुसैनिया मदरसे में 30 मार्च को संवेदित किया गया।

इस कार्यक्रम में सीएमओ डा. श्रीकांत तिवारी मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए और उन्होंने मदरसा शिक्षकों से अपील की कि नियमित टीकाकरण का लाभ बच्चों और गर्भवती महिलाओं को दिलाने में वे सभी लोग मदद करें।

सीएमओ डा. श्रीकांत तिवारी ने कहा कि समुदाय के सहयोग से ही कोई भी कार्यक्रम या अभियान सफल होता है। भारत का पोलियो मुक्त देश होना भी इसी सामुदायिक सहयोग के कारण संभव हो पाया। शहर काजी वलीउल्लाह और मौलाना रियाजुद्दीन ने भी मदरसा शिक्षकों को टीकाकरण का महत्व बताया। यूनीसेफ के जिला समन्वयक ग्वासुद्दीन और नवनीत कुमार श्रीवास्तव ने सरकार के टीकाकरण कार्यक्रम और इसके लाभों के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

इस अवसर पर डब्लूएचओ के डा. सागर, जिला स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी ओपीजी राव समेत स्वास्थ्य विभाग के प्रतिरक्षण विभाग से जुड़े लोग भी मौजूद रहे।

 

शिक्षकों को दी गई यह जानकारी

  • गर्भवती माताओं और बच्चों को सभी सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों पर निशुल्क टीके लगाए जाते हैं।
  • नियमित टीकाकरण करवा कर बच्चों को गलघोंटू, टिटनेस, इंसेफेलाइटिस समेत कई बीमारियों से बचाया जा सकता है।
  • सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों पर मौजूद चिकित्सक के परामर्श के अनुसार प्रशिक्षित स्टाफ से नियमित टीकाकरण करवाना चाहिए।
  • जिले के सभी एएनएम सब सेंटर पर प्रत्येक बुधवार और शनिवार को नियमित टीकाकरण होता है।

Leave a Comment