राज्य

कुवैत के मो.आमिर को उर्दू अदब व डा.हरिओम को साहित्यश्री सम्मान

हिन्दी-उर्दू साहित्य अवार्ड कमेटी का अलंकरण समारोह व मुशायरा

लखनऊ, 23 जून। पेपरमिल कालोनी के क़ैफ़ी आज़मी प्रेक्षागृह में आज शाम हिन्दी-उर्दू साहित्य अवार्ड कमेटी और कुवैत के आॅल इण्डिया कल्चरल एसोसिएन के संयुक्त तत्वावधान में अलंकरण समारोह और मुशायरे का आयोजन किया गया।

इस आयोजन मे पूर्व राज्यपाल सिब्ते रज़ी व अन्य अतिथियों ने कुवैत के मोहम्मद आमिर बिन सलमान को उर्दू अदब अवार्ड-2017 और डा.हरिओम को साहित्यश्री सम्मान-2017 से अंगवस्त्र, सम्मान पत्र इत्यादि देकर नवाज़ा।

IMG-20180624-WA0010

इस अवसर पर पूर्व राज्यपाल ने आयोजन के लिए कमेटी के महासचिव अतहर नबी और संयोजक मेराज हैदर को बधाई देते हुए कहा कि भाषा कोई भी हो, जबान कोई भी हो, इस देश और शहर ए लखनऊ की अभिव्यक्ति एक ही है, लक्ष्य एक ही है कि आपसी प्रेम और सौहार्द की स्थापना हो। ये आयोजन हमारे लखनऊ में हो रहा है जिसकी संस्कृति विश्वविख्यात है।

कमेटी के इस आयोजनों की विशेषता रही है कि यह हमें रचनाकारों के साहित्यिक योगदान से परिचित कराती है। उन्होंने कहा कि अपनी भाषा, संस्कृति और साहित्य का ऐसे कार्यक्रम ही नई पीढ़ी की प्रेरणा बनेंगे। इस अवसर पर अन्य अतिथियो ने भी कमेटी के आयोजन को सराहते हुए सम्मानित रचनाकारों को बधाई दी।

इससे पहले हिन्दी-उर्दू साहित्य अवार्ड कमेटी के सचिव अतहर नबी ने अतिथियों और रचनाकारों का स्वागत करते हुए कमेटी की गतिविधियों से परिचित कराया दोनो भाषाओं और उनके विद्वानों के लिए कमेटी पिछले 29 वर्षों से बराबर राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर के सफल आयोजन करती आ रही है।

आभार व्यक्त करते हुए संयोजक मेराज हैदर ने कहा अदब और तहजीब के इस शहर में इस समारोह में कुवैत के साथ ही साहित्य जगत की शीर्षस्थ हस्तियों का शामिल होना जहां इस आयोजन की सफलता का द्योतक है वहीं, ये कमेटी के लिए भी गर्व की बात है।

 

dr hariom 2

समारोह के दूसरे चरण में मुशायरे और कवि सम्मेलन का सुधी श्रोताओं ने देर रात तक आनंद लिया। इस मौके पर मशहूर शायर शारिब रुदौलवी, साबरा हबीब,प्रदीप कपूर,शायर डॉक्टर अनीस अंसारी(पूर्व आईएएस), शायर वासिफ फ़ारूक़ी जी, शायर आमिर सिद्दीक़ी, संस्था के संयोजक मेराज हुसैन, महासचिव अतहर नबी और गायिका मालविका उपस्थित थे.

 

Leave a Comment