समाचार

उत्तर प्रदेश मदरसा बोर्ड सभी मदरसों में लागू करेगा ‘ वेब मैथ एप ’

मदरसा जियाउलू पुराना गोरखपुर गोरखनाथ

गोरखपुर। मदरसा बोर्ड से अनुदानित मदरसों में पढ़ने वाले दो लाख से अधिक छात्रों को प्रदेश सरकार अब ई-लर्निंग के माध्यम से स्मार्ट बनाएगी। प्रदेश भर में मदरसा बोर्ड द्वारा 558 अनुदानित मदरसे हैं। जिनमें दो लाख से अधिक छात्र पढ़ाई कर रहे हैं। सभी में पहले से एनसीआरटी पाठ्यक्रम लागू है। अब मदरसों के बच्चों को ई-लर्निंग से स्मार्ट बनाने के लिए ‘वेब मैथ एप’ लांच करने की तैयारी की जा रही है। इस एप के माध्यम से बच्चे को शुरुआती चरण में मुख्य रूप से गणित की पढ़ाई ऑनलाइन करायी जायेगी। इसके साथ ही इसके माध्यम से आंशिक रूप से विज्ञान की पढ़ाई कराई जाएगी।

मदरसा बोर्ड की ओर से प्रत्येक मदरसे से दो शिक्षकों को एप का प्रशिक्षण लखनऊ के मौलाना अली मियां मेमोरियल हज हाऊस 3 से 6 दिसम्बर दिया जायेगा। तीन दिन में एप बनाने वाली सेरेबी फर्म के तकनीकी सदस्य प्रदेश भर से आये शिक्षकों को प्रशिक्षित करेंगे।

 मदरसों में एप से पढ़ाई पहली बार

उत्तर प्रदेश के मदरसों में दीनी तालीम के साथ ही मार्डन एजुकेशन पर जोर दिया गया। एनसीआरटी पाठ्यक्रम अनुदानित मदरसों में लागू किया गया। अब ये पहला मौका होगा जब प्रदेश भर के मदरसों में एप के माध्यम से गणित पढ़ाई जायेगी। मदरसा बोर्ड से जुड़े अधिकारियों का मानना है कि ई-लर्निंग के माध्यम से बच्चे विषय को सहजता से समझ सकेंगे।

गणित को आसान बनाने का प्रयोग

मदरसे के बच्चे शुरू से ही उर्दू-अरबी में दीनी तालीम हासिल करते आ रहे हैं। इसके बाद से उन्होंने गणित, विज्ञान और कम्प्यूटर की पढ़ाई शुरू की लेकिन बच्चों को गणित के फॉर्मूले समझने में दिक्कत आती है। ई-लर्निंग एप के माध्यम से पढ़ने में बच्चों गणित से जुड़ी बातों की तमाम दिक्कतें खत्म हो जायेगी।

वीडियो लेक्चर से कर सकेंगे पढ़ाई

ई-लर्निंग में गणित से जुड़ी सभी पाठ्य सामाग्री (कक्षा के अनुसार) के साथ ही गणित विषय के फॉर्मूलों को हल करने का तरीका गणित शिक्षक वीडियो के माध्यम से बतायेंगे। जटिल फार्मूले का वीडियो में एप में अपलोड रहेगा। जिसे कभी भी देखा जा सकेगा।  इससे मदरसा छात्रों को फॉर्मूले सीखने और हल करने में आसानी होगी।

 

आधुनिक शिक्षा देने के लिए बनाया गया है ‘ वेब मैथ एप ’ : आरपी सिंह, रजिस्ट्रार, उत्तर प्रदेश मदरसा बोर्ड

मदरसा में पढ़ने वाले छात्रों को आधुनिक शिक्षा देने के लिए प्रदेश सरकार काम रही है। इसी के अन्तर्गत ‘वेब मैथ एप’ बनाया गया है। पहले चरण में प्रदेश के प्रत्येक मदरसे से दो शिक्षकों को प्रशिक्षित किया जायेगा। ये ही शिक्षक मदरसों में एप के माध्यम से बच्चों को पढ़ाएंगे। पहले चरण में एप से गणित विषय की पढ़ाई होगी।

 

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz