स्वास्थ्य

स्तनपान के लिए महिलाओं का जागरूक होना जरुरी : सीएमओ

स्तनपान के महत्व के बारे में स्वास्थ्य कर्मियों के बीच चर्चा करते सीएमओ देवरिया
-बीसीपीएम बैठक में एचबीएनसी कार्यक्रम के गतिविधियों पर हुई चर्चा
देवरिया । होम बेस्ड न्यूयोनेटल केयर (एचबीएनसी) कार्यक्रम के तहत बीसीपीएम (ब्लॉक कम्युनिटी प्रोसेस मैनेजर) की बैठक सोमवार को धनवंतरि सभागार में सीएमओ डॉ धीरेन्द्र कुमार की अध्यक्षा में हुई। बैठक में एचबीएनसी कार्यक्रमों की गतिविधियों पर चर्चा की गई।
 सीएमओ डॉ धीरेन्द्र कुमार ने कहा कि ‘गृह आधारित नवजात देखभाल हेतु जनपद के सभी विकासखण्ड के ब्लॉक कम्युनिटी प्रोसेस मैनेजर और स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी का जागरूक होना बेहद आवश्यक है। इसके अलावा एचबीएनसी के शत-प्रतिशत परिणाम के लिए आशा, एएनएम और आँगनबाड़ी कार्यकर्ता नियमित घर-घर जाकर विजिट करें और हर महीने मुख्यालय पर होने वाली समीक्षा बैठक में इससे सम्बन्धित जानकारी दें।
उन्होंने बताया कि महिलाओं में स्तनपान को लेकर जागरूकता लाना बेहद आवश्यक है। एक घण्टे के अन्दर नवजात को स्तनपान कराना चाहिए और ऐसा तब सम्भव है, जब हम प्रसूता को इसके बारे में सही जानकारी देंगे। उन्होंने कहा कि प्रसव के बाद 42 दिन तक जच्चा-बच्चा के स्वास्थ्य की देखभाल की जिम्मेदारी संबंधित आशा की होती है। प्रसूता के घर पहुंचकर आशा को जच्चा को स्तनपान कराने का तरीका बताने के साथ ही उसे हैंडवॉश के बारे में भी जानकारी देना होती है। नवजात का वजन लेने के साथ ही उसके विकास व बीमारी के बारे में जानकारी लेकर उसे संबंधित ब्लॉक के सामुदायिक व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के अधीक्षक को रिपोर्ट देनी होती है। नवजात बीमार है तो आशा की रिपोर्ट पर अधीक्षक को उसे स्वस्थ करना होता है।
इस अवसर पर डीसीपीएम रजेश गुप्ता, यूनिसेफ के डा फईम हसन सहित सभी ब्लाकों के बीसीपीएम मौजूद रहे।

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz