Monday, January 30, 2023
Homeसमाचारगंदगी मिलने पर होटल क्लार्क इन ग्रैंड को नोटिस, होटल बाबीना और...

गंदगी मिलने पर होटल क्लार्क इन ग्रैंड को नोटिस, होटल बाबीना और गंगेज पर दर्ज होगा मुकदमा

नामी होटलों और रेस्त्रां की जांच में मिलीं कई खामियाँ 
गोरखपुर , 30 जुलाई। खाद्य सुरक्षा महकमे की टीम ने शुक्रवार को अभियान चलाकर शहर के कई नामी होटल और रेस्त्रां पर छापा मारकर गहन जांच की। इस दौरान गंदगी मिलने पर जहां होटल क्लार्क इन ग्रैंड को नोटिस दिया गया वहीं होटल बाबीना और गंगेज के रेस्त्रां बिना लाइसेंस के चलते मिले। महकमा इन दोनों होटल का चालान कर उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की तैयारी में जुट गया है।

खाद्य सुरक्षा आयुक्त को इस संबंध में रिपोर्ट भेजी जाएगी। वहां से अनुमति मिलते ही दोनों रेस्त्रां संचालकों  पर एसीजीएम कोर्ट में मुकदमा दर्ज होगा। बाबीना से टीम ने रिफाइंड सोयाबीन ऑयल और बेसन, जबकि गंगेज से पनीर का नमूना भी लिया। क्लार्क को सुधार के लिए 25 दिन का मौका दिया गया है। इसके बाद टीम दोबारा निरीक्षण करेगी। अगर उस दौरान भी कमियां मिलीं तो उनके खिलाफ भी कार्रवाई होगी।

अभिहीत अधिकारी अजीत कुमार और मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी अनिल कुमार के नेतृत्व में चले अभियान के दौरान टीम ने छह होटल, रेस्त्रां से नमूने भी लिए, जिन्हें जांच के लिए भेजा जा रहा है। टीम ने तरंग चौराहा स्थित उपवन होटल से लाल मिर्च पाउडर, मेडिकल कालेज रोड स्थित हंगर हब रेस्त्रां से पनीर और आटा, महाकाल होटल से सरसों तेल, टुंडे कबाबी और बशारतपुर स्थित जार्ज बिरियानी कार्नर से पनीर का नमूना लिया। इसी तरह टीम ने तरंग चौराहा स्थित श्री जनरल स्टोर्स से कुकीज का नमूना लिया। दुकान के मालिक ने खाद्य महकमे में दुकान का पंजीकरण भी नहीं कराया था जिसपर उसका चालान भी किया गया।

कार्रवाई करने वाली टीम में केएल वर्मा, एनपी सिंह, विजय यादव, वीरेंद्र्र यादव, नरेश तिवारी, प्रतिमा त्रिपाठी, कृष्ण चन्द, इंद्रेश, नरेंद्र कुमार, सुचित प्रसाद आदि शामिल थे। ⁠⁠⁠⁠

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments