Tuesday, September 27, 2022
Homeजीएनएल स्पेशलतटबंधो की सुरक्षा में लापरवाही भारी पड़ी, बी गैप के ठोकर...

तटबंधो की सुरक्षा में लापरवाही भारी पड़ी, बी गैप के ठोकर संख्या 13 पर कटान शुरू

नेपाली ग्रामीणों ने मौके पर पहुंचे एडीएम से नाराजगी जाहिर की 

महराजगंज , 18 जुलाई। नेपाल स्थित अन्तर्राष्ट्रीय तटबंधो की सुरक्षा में लापरवाही भारी पड़ने लगी है। मरम्मत व सुरक्षा की गरज से स्वीकृत करोडों की परियोजनाओं का काम अब तक शुरू न होने से नेपाली नागरिकों में आक्रोश है। पहाडों पर बरसात के बाद उफनाई नारायणी के बढते जलस्तर से डैमेज ठोकरों पर बढते नदी के दबाव और बी गैप के ठोकर संख्या 13 पर हो रही व्यापक कटान देख नेपाली नागरिक चिंतित हैं। आज  बीगैप के तेरह नम्बर ठोकर पर बडी संख्या में जुटे नेपाली ग्रामीणों ने मौके पर पहुंचे एडीएम से बंधों की सुरक्षा को लेकर बरती जा रही लापरवाही पर नाराजगी जाहीर की और अविलम्ब बाढ बचाव कार्य शुरू कराने की मांग की है।
नेपाल स्थित अन्तर्राष्ट्रीय तटबंध ए गैप, बी गैप, लिंक बांध व नेपाल बांध की सुरक्षा व देखरेख करने वाला जिले का सिचाई खण्ड दो इस वर्ष अन्तर्राष्ट्रीय तटबंधो की सुरक्षा व रख रखाव को लेकर तनिक भी गंभीर नही है।बंधों की सुरक्षा व पुनर्स्थापना को लेकर स्वीकृत 28 करोड 95 लाख की 9 परियोजनाओं के अनुबंध में हुई देरी से अब तक बंधों पर कार्य शुरू भी नही हो सके है। बी गैप पर पांच व नेपाल बांध पर स्वीकृत चार परियोजनाओं में से महज एक नेपाल बांध के ठोकर संख्या पांच पर कार्य चल रहा है जहां काम के नाम पर हो रही कागजी खानापूर्ति नेपालियों के आक्रोश में घी का काम कर रही है। नेपाली ग्रामीणों का कहना है कि कागजी खानापूर्ति में माहिर भारतीय इंजीनियर बीते वर्ष बीगैप के तेरह नम्बर की तरह ही यहा भी जलस्तर बढने के बाद काम शुरू कराये और जलस्तर बढने का हवाल दे आधा अधूरा काम करा कर काम को जब-तब ठप कर दे रहे है। इसी लापरवाही के चलते आज तेरह नम्बर ठोकर पर नदी का दबाव बढता जा रहा है और नदी बडी तेजी से कटान करते हुये बी गैप बांध की ओर बढ रही है।सोमवार की सुबह 9 बजे जलस्तर 2 लाख 8 हजार क्यूसेक पहुंच गया और कटान और तेजी से होने लगी।जिसके बाद विभागीय अफ्सरों के हाथ पांव फूलने लगा। पहले से ही जर्जर और खस्ताहाल बंधों पर बढते नदी के दबाव को देख अफसरों ने कटान रोकने की जोर आजमाइश शुरु कर दी लेकिन खतरा यही नही टला। डेंजर जोन ठोकर संख्या तेरह व चौदह के अलावा नेपाल बांध के ठोकर संख्या पांच व तीन पर भी नदी का दबाव बढता जा रहा है।

इस संबध में एक्सीएन बीके यादव का कहना है कि बंधों की सुरक्षा को लेकर विभाग सजग है।संवेदनशील ठोकरों पर काम कराया जा रहा है। बी गैप के तेरह नम्बर ठोकर पर भी जल्द काम शुरु हो जायेगा।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments