Friday, December 9, 2022
Homeस्वास्थ्यदेवरिया में एएनएम, एमएचसीपी स्टाफ नर्स और सीएचओ को दिया गया प्रशिक्षण

देवरिया में एएनएम, एमएचसीपी स्टाफ नर्स और सीएचओ को दिया गया प्रशिक्षण

टैब चलाने और एप पर फॉर्मेट भरने का गुर सीखा

देवरिया
सीएमओ कार्यालय के धन्वंतरि सभागार में एक दिवसीय प्रशिक्षण शिविर का आयोजन शनिवार को किया गया। प्रशिक्षण शिविर में हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में कार्यरत एएनएम, एमएचसीपी स्टाफ नर्स और सीएचओ को टैब चलाने और एनसीडी एप पर फार्मेट भरने की ट्रेनिंग दी गयी।
प्रशिक्षण में टाटा ट्रस्ट के मास्टर ट्रेनर व् प्रोग्राम कोआर्डिनेटर ललन प्रसाद एएनएम को एनसीडी एप के बारे में विस्तार से बताया। प्रशिक्षण के दौरान बताया गया कि अगर परिवार में किसी को उच्च रक्तचाप, मधुमेह, यक्ष्मा (टीबी) या कैंसर हुआ है, तो उस घर के युवकों के स्वास्थ्य की जांच की जायेगी। उन्होंने बताया कि गैर संचारी रोगों के अधीन 30 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों का सेहत निरीक्षण करके कैंसर, शूगर, हार्ट अटैक एवं स्ट्रोक बीमारियों का आशा कार्यकर्ताओं द्वारा घर-घर जाकर डाटा एकत्रित करके एएनएम के जरिए लोगों की सेहत का मुआयना किया जाता है तथा डॉक्टरों द्वारा इलाज किया जाना है। ब्लड प्रैशर, कैंसर, शूगर एवं स्ट्रोक के मरीजों की हैल्थ एंड वैलनैस सेंटर्स पर मरीजों का निशुल्क इलाज किया जाता है। एएनएम को टैबलेट ट्रेनिंग देने का मुख्य उद्देश्य स्वास्थ्य विभाग द्वारा दी जाने वाली सेहत सेवाओं का रजिस्ट्रर पर काम कम करके टैबलेट द्वारा ऑनलाइन रिकॉर्ड भारत एवं राज्य सरकार को इसके साथ एएनएम के पास हर समय डाटा उपलब्ध रहेगा। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग की विभिन्न योजनाओं को जमीनी स्तर तक पहुंचाने का काम करने वाली एएनएम को हाईटेक किया गया है। इसके लिए जिले में चल रहे सभी हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में कार्यरत एएनएम को टैब दिया गया है। इस टेबलेट में एनसीडी सॉफ्टवेयर के माध्यम से कार्य किया जाना है।
इस मौके पर इपिडेमियोलॉजिस्ट राजीव भूषण पांडेय, डीडीएएम अरबन राजेश कुमार, बीसीपीएम अजित शर्मा, जयप्रकाश सहित एएनएम व सीएचओ शामिल थे।

जिले में चल रहे 15 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर

डीसीपीएम राजेश गुप्ता ने बताया जिले के 15 स्थानों पर जन आरोग्य प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना के तहत 30 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर खोला गया है, जिसमे से 15 हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटरों का संचालन शुरू हो गया है, जहां मरीजों को जांच तथा इलाज की सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments