Monday, February 6, 2023
Homeसमाचारजनपदमस्तिष्क ज्वर व जल जनित बीमारियों के प्रति जागरूक किया

मस्तिष्क ज्वर व जल जनित बीमारियों के प्रति जागरूक किया

गोरखपुर , 20 सितम्बर। आज गोरखपुर एनवायरन्मेण्टल एक्शन ग्रुप ने मदरसा गौसिया गल्र्स जूनियर हाई स्कूल, मानबेला खास एवं स्कालल्र्स एकेडमी रामजानकीनगर में पर्यावरण संरक्षण, मस्तिष्क ज्वर एवं जल जनित बीमारियों पर जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया।

परिचर्चा का सम्बोधित करते हुए गोरखपुर एनवायरन्मेण्टल एक्शन ग्रुप के समन्वयक विजय पाण्डेय ने कहा कि जल ही जीवन है। मानव जनित विभिन्न कारणों से आज गोरखपुर का पानी खतरनाक स्तर तक प्रदूषित हो चुका है। शहर में अधिकांश लोगों की पहुंच स्वच्छ जल तक न होने के कारण तमाम तरह की बीमारिंया अपने पैर पसार रही हैं, जो न सिर्फ व्यक्ति को शारीरिक बल्कि  मानसिक रूप से कमजोर बनाती हैं। गंदा पानी पीने से बीमार व्यक्ति की काम करने की क्षमता घटती है, बच्चे कुपोषित हो सकते है, बच्चों की संक्रमण एवं बीमारी-प्रतिरोधक क्षमता पर असर पड़ता है। टाइफाइड बुखार, पेचिश, कालरा, डायरिया, पीलिया एवं कृमि रोग आदि रोग गंदे पानी से ही होते है। यदि समय पर इलाज न कराया जाये, तो इन बीमारियों से व्यक्ति की मृत्यु तक हो जाती है।
परिचर्चा का सम्बोधित करते हुए गोरखपुर एनवायरन्मेण्टल एक्शन ग्रुप के समन्वयक जितेन्द्र द्विवेदी ने कहा कि इण्डिया मार्का हैण्डपम्प का ही पानी पीयें, पानी को शुद्ध करने के लिए क्लोरीन की गोली, ब्लीचिंग पाउडर का प्रयोग करें या उबले पानी का प्रयोग करें, खुले में शौच न जायें, बन्द शौचालय का हमेशा प्रयोग करें, हैण्डपम्प एवं नालियों के बीच उचित दूरी रखें, आस पास का वातावरण स्वच्छ रखें, पानी या कूड़ा न जमा होनें दें। जमा पानी या कूड़ा-कचरा भी जल को दूषित करते है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments