Thursday, February 9, 2023
Homeसमाचाररूद्रपुर की तरह कुशीनगर में नहीं लुटी खाटें, कांग्रेस नेताओं की अपील...

रूद्रपुर की तरह कुशीनगर में नहीं लुटी खाटें, कांग्रेस नेताओं की अपील काम आयी

कुशीनगर, 6 सितम्बर। रूद्रपुर की तरह कुशीनगर में राहुल गांधी की खाट सभा में खाटें लुटने से बच गयीं। कांग्रेस नेताओं ने रुद्रपुर में खाट लूट से सबक लेते हुए सभा में पहले ही अपील करनी शुरू कर दी कि लोग खाटों को न ले जाएं।
पूर्व गृह राज्य मंत्री आर पी एन सिंह ने सभा शुरू होते ही अपने सम्बोधन में कहा कि कुशीनगर की धरती बुद्ध की धरती है। यहां सभा में लगी खाटें राहुल गांधी की अन्य जिलों में होने वाली खाट सभााओं में भी जाएंगी। इसलिए लोग खाटों और मोढ़ों को साथ न ले जाएं।
उनकी अपील का असर हुआ। सभा समाप्त होने के बाद भी कांग्रेस नेता खाटों और मोढ़ों को न ले जाने की अपील करते रहे। यही नहीं खाटों को सभा स्थल पर लगाने वाले मजदूर भी सतर्क दिखे और सभा समाप्त होते ही खाटों को सहेजना शुरू कर दिया।
कुशीनगर की सभा फोर लेन हाइवे पर बुद्ध द्वार के ठीक सामने लीलावती स्टेडियम में हुआ। स्टेडियम की चारो तरफ से चहारदीवारी है और आने-जाने के लिए दो गेट लगे हैं। एक गेट सामान्य लोगों की आवाजाही के लिए थे तो दूसरा वीआईपी के लिए पुलिस बल ने भीड़ को व्यवस्थित करने में भी काफी मेहनत की। संभवतः उन्हें रूद्रपुर में हुई अव्यवस्था के बारे में सजग किया गया था। यही नहीं यहां सभा के दौरान लोग खाटों पर बैठे। इसलिए कम संख्या में खाटें टूटीं।
सभा में एक किसान और एक आंगनबाड़ी कार्यकत्री ने अपनी बात रखी। आंगनबाड़ी कार्यकत्री ने कहा कि इंदिरा जी ने पेड़ लगाया था। राहुल गांधी उसे पानी दें। उसका कहने का आशय यह था कि आंगनबाड़ी योजना इंदिरा गांधी ने शुरू किया था। अब उनकी राज्य कर्मचारी घोषित करने और उनका वेतन बढ़ाने की मांग को राहुल गांधी पूरा करें।
राहुल गांधी ने कहा कि उनसे बड़ी संख्या में आंगनबाड़ी कार्यकत्रियां मिली हैं और अपनी पीड़ा से अवगत करया है। कांग्रेस के कार्यकाल में आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों का मानदेया 1500 से 3200 किया गया। अब लखनउ और दिल्ली में हमारी सरकार नहीं है लेकिन हम उनका मांग पूरी कराने के लिए सड़क और उत्तर प्रदेश की विधानसभा व लोकसभा में आवाज उठाएंगे।
यहां पर सभा का संचालन पूर्व मंत्री आरपीएन सिंह ने किया। सभा को कांग्रेस जिलाध्यक्ष एवं तमकुहीराज के विधायक अजय कुमार लल्लू ने भी सम्बोधित किया।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments