Tuesday, January 31, 2023
Homeसाहित्य - संस्कृतिसेंट एण्ड्रयूज कालेज के उर्दू विभाग की वाल मैगजीन ने निकाला प्रेमचन्द...

सेंट एण्ड्रयूज कालेज के उर्दू विभाग की वाल मैगजीन ने निकाला प्रेमचन्द विशेषांक

इप्टा ने नाटक ‘ सौत ’ का मंचन किया, फिल्म ‘ सद्गति ’ दिखायी गई
‘ गोरखपुर में प्रेमचन्द: शताब्दी स्मरण ’ कार्यक्रम श्रृंखला

गोरखपुर, 24 सितम्बर। सेंट एण्ड्रयूज कालेज के एसेम्बली हाल में आज कालेज के उर्दू विभाग द्वारा ‘ गोरखपुर में प्रेमचन्द: शताब्दी स्मरण ’ कार्यक्रम के तहत नाट्य मंचन, फिल्म ‘ सद्गति ’ का प्रदर्शन किया गया।

f6950e2d-9490-43aa-8c55-86054cb085fe
नाटक ‘ सौत’ का मंचन

कार्यक्रम में सबसे पहले उर्दू विभाग की वाल मैगजीन के प्रेमचन्द विशेषांक का विमोचन हुआ। विभाग के प्रवक्ता एवं कार्यक्रम संयोजक डा. साजिद हुसैन अंसारी ने कहा कि इस कार्यक्रम का आयोजन गोरखपुर में प्रेमचन्द के आने के 100 वर्ष के मौके पर किया जा रहा है। कार्यक्रम का उद्देश्य प्रेमचन्द के विचारों और साहित्यिक कार्यों को छात्र-छात्राओं तक पहुंचाना है। उन्होंने विस्तार से प्रेमचन्द के गोरखपुर से रिश्ते और उनकी रचनाओं के बारे में जानकारी दी।

0c933515-5365-4ba1-97c2-6baf16c335b2
नाटक ‘ सौत’ का मंचन

इसके बाद इप्टा की गोरखपुर इकाई ने प्रेमचन्द की कहानी पर आधारित नाटक ‘सौतन’ का मंचन किया। डा. मुमताज खान द्वारा निर्देशित इस नाटक ने छात्र-छात्राओं को खूब प्रभावित किया। इसके बाद प्रेमचन्द की कहानी सद्गति पर सत्यजित राय द्वारा बनायी गयी फिल्म दिखायी गई।

c1301deb-ac62-48ee-9b20-0862b2bf586f
नाटक का मंचन करने वाले इप्टा के कलाकारों के साथ डॉ साजिद हुसैन और डॉ मुमताज़ खान

कार्यक्रम की मुख्य अतिथि हिन्दी विभाग की अध्यक्ष प्रो प्रभा सिंह ने कहा कि प्रेमचन्द ने गरीब किसानों व मजदूरों पर कहानी लिखकर सामाजिक सचाई को उजागर किया। उन्होंने कहानी को राजा-रानी और अमीर वर्ग के किस्सो से मुक्त कर किसान, मजदूर, गरीबों की कहानी बनाया। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे उप प्राचार्य एस दान ने कहा कि हम सभी पर प्रेमचन्द की कहानियों पर बहुत प्रभाव डाला है।

f69a491d-8083-4fa2-8be1-a5f71e9e144d
वाल मैगजीन का विमोचन करते उप प्राचार्य एस दान, हिन्दी विभाग की अध्यक्ष प्रो प्रभा सिंह , डॉ साजिद हुसैन

इस अवसर पर डा सुशील कुमार राय, डा दीपक सिंह, डा जेवियर मारिया राज, डा रवीन्द्र आनन्द, डा संतोष यादव, डा अनुग्रह तिवारी, डा जेपी यादव, डा विकास सरकार, डा जिलाजीत चैधरी, डा देवरंजन आदि उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments