Gorakhpur NewsLine

मठ की हार नहीं है, बाबा मत्स्येन्द्रनाथ के वंशज की जीत है – प्रवीण कुमार निषाद

गोरखपुर, 18 मार्च। शपथ ग्रहण करने के बाद शनिवार को गोरखपुर लौटे नव निर्वाचित सांसद प्रवीण कुमार निषाद का सपा, पीस पार्टी, निषाद पार्टी के कार्यकर्ताओं और समर्थकों ने जोरदार स्वागत किया। श्री निषाद गोरखपुर हवाई अड्डे से लोगों का अभिवादन स्वीकार करते हुए डा, अम्बेडकर, सरदार बल्लभ भाई पटेल, सुभाष चन्द्र बोस की प्रतिमा पर माल्यार्पण करते हुए गोरखनाथ मंदिर गए और बाबा गोरखनाथ की पूजा-अर्चना की।

इस मौके पर पत्रकारों से बात करते हुए सांसद प्रवीण कुमार निषाद ने कहा कि गोरखपुर की जनता ने उन्हें सेवा करने का अवसर दिया है। वह पूरी मेहनत से जनता की आकांक्षा पर खरा उतरने का प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि कुछ लोग कह रहे हैं कि चुनाव में गोरखनाथ मठ की हार हुई है। यह गलत है। गोरखनाथ मठ की हार नहीं है। मठ आज भी जीता है। अब तक मठ के महंत सांसद हुआ करते थे। इस बार बाबा मत्स्येन्द्रनाथ का वंशज चुनाव लड़ा और उसे जीत मिली। आगे की रणनीति के बारे में सवाल पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि वह जनता के सेवक हैं,जनता के बीच रहेंगे।

सांसद प्रवीण कुमार निषाद के साथ उनकी पत्नी, मां और पिता निषाद पार्टी के अध्यक्ष डा. संजय कुमार निषाद, सपा के जिलाध्यक्ष प्रहलाद यादव, पूर्व मंत्री स्व. जमुना निषाद के बेटे अमरेन्द्र निषाद सहित बड़ी संख्या में लोग थे।

शनिवार को गोरखपुर पहुंचने पर सांसद प्रवीण निषाद एक खुली जीप में सवार होकर नंदानगर, कूड़ाघाट, मोहद्दीपुर, पैडलेगंज, बेतियाहाता, गोलघर, काली मंदिर होते हुए गोरखनाथ मंदिर पहुंचे और यहां से अपने पैतृक गांव जंगल बब्बन गए और वहां से फिर पूर्व मंत्री जमुना निषाद की खुटहन स्थित उनकी समाधि गए और पुष्पाजंलि अर्पित की।

श्री निषाद ने कूड़ाघाट तिराहे पर शहीद गौतम गुरूंग, मोहद्दीपुर तिराहे पर पूर्व विधायक वीरेन्द्र प्रताप शाही और कैम्पियरगंज में पूर्व मुख्यमंत्री वीरेन्द्र प्रताप शाही की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। वह बेतियाहाता स्थित सपा कार्यालय भी गए जहां कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया।

Exit mobile version