जनपद

पत्रकार अरविंद श्रीवास्तव नहीं रहे

बढ़नी (सिद्धार्थनगर), 7 नवम्बर। भारत-नेपाल सीमा पर स्थित सिद्धार्थनगर ज़िले के बढ़नी बॉर्डर के प्रखर पत्रकार अरविंद श्रीवास्तव के निधन से बढ़नी और कृष्णानगर मे शोक की लहर दौड़ गयी है।
दैनिक जागरण से जुड़े अरविंद स्थानीय लोगों मे काफी लोकप्रिय थे।उनके निधन से नेपाल सीमा पर साफ सुथरी पत्रकारिता की छवि को धक्का लगा है। गोरखपुर मेडिकल कालेज मे रात एक बजे उन्होने अंतिम सांस ली। चूँकि वो कबीर पंथ से जुड़े थे, इसलिए उनकी चिता को अग्नि नहीं दी गयी।उनके परिवार के इच्छा के अनुसार आज दोपहर उनको सुपुर्द ए खाक कर दिया गया।उनकी अंतिम यात्रा में नेपाल और भारत के सीमाई इलाके के लोग भारी तादाद में शामिल हुए।जिसमे पत्रकारों के अलावा व्यापारी नेता और सामाजिक कार्यकर्ता भी शामिल थे। उनके अंतिम संस्कार में वरिष्ठ पत्रकार राकेश तिवारी, अभय बख़्शी, मुस्तन सेरूल्लाह खान, विकास सिंह, विजय श्रीवास्तव,सलमान हिंदी, आज़ाद फ़ैज़ी, इरशाद अहमद,अजय गुप्ता,दिनेश पांडेय,रवि शुक्ला,सरदार हरभजन सिंह,त्रियुगी अग्रहरि,सतीश शर्मा,मोहम्मद इब्राहिम,जमाल अहमद, मुजीबुल्लाह, सगीर ए खाकसार आदि के अलावा शोहरतगढ़ विधान सभा के बसपा प्रत्याशी मोहम्मद जमील सिद्दीकी ने हिस्सा लिया।

Related posts

गोरखपुर विश्वविद्यालय प्रशासन ने विभागों से कहा -खाली जगहों पर सुंदर वाटिका बनायें

गोरखपुर न्यूज़ लाइन

महिला हित को ध्यान में रख कर कार्य कर रही भाजपा- इन्द्रवास सिंह

 आईजी रूल्स व मैनुअल्स ने हत्या का मुक़दमा तत्काल दर्ज करने को कहा