समाचार

गोरखपुर के अमरनाथ जायसवाल प्रादेशिक जीव जंतु कल्याण अधिकारी बने

 

गोरखपुर: अमरनाथ जायसवाल को केंद्रीय वन पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय के अधीन कार्यरत ‘भारतीय जीव जंतु कल्याण बोर्ड’ ने मानद प्रादेशिक जीव-जंतु कल्याण अधिकारी नियुक्त किया है.

यह जानकारी श्री जायसवाल ने एक प्रेस विज्ञप्ति मे दी है. उन्होंने बताया है कि इस नियुक्ति के लिए उन्हें बल्लभगढ़ स्थित भारतीय जीव जंतु कल्याण बोर्ड के मुख्यालय पर 5 दिन का प्रशिक्षण प्रदान करने के बाद यह जिम्मेदारी प्रदान की गई है. 5 दिनों की गहन प्रशिक्षण के तहत कई बातों की जानकारी प्रदान की जिसमें पशुओं के ऊपर होने वाले अपराध को रोकने और बेसहारा पशुओं रखरखाव की जिम्मेदारी सौंपी गई है.

छुट्टा पशुओं पर नियंत्रण और कुत्तों की नसबंदी कराने का भरोसा दिलाया

पशुओं की तस्करी रोकने को पुलिस और प्रशासन के साथ ठोस रणनीति बनायेंगे

उल्लेखनीय है कि भारतीय जीव जंतु कल्याण बोर्ड का मुख्यालय इस साल तमिलनाडु के चेन्नई स्थित मुख्यालय से स्थानांतरित कर हरियाणा के फरीदाबाद में स्थापित नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ एनिमल वेलफेयर के परिसर में लाया गया है.  राज्य में अब पशु कल्याण एवं उनके ऊपर होने वाले अपराधों को नियंत्रित करने में बहुत बड़ी सफलता मिलेगी. भारतीय जीव जंतु कल्याण बोर्ड के चेयरमैन एस पी गुप्ता आईएएस ने श्री जायसवाल को यह आश्वासन दिया है कि यदि उत्तर प्रदेश में उल्लेखनीय कार्य किया गया तो उन्हें अन्य बड़ी जिम्मेदारी भी सौंपी जा सकती है. गोरखपुर के पशु प्रेमियों की ओर से इस सम्मान और सेवा युक्त जिम्मेदारी के लिए श्री जायसवाल ने आभार प्रकट किया है और आश्वासन दिया है कि सिर्फ अपना प्रांत मे ही नहीं बल्कि देश के अन्य जनपदों में भी जीव जंतु कल्याण के कार्यों को पहुंचाया जाएगा. श्री जायसवाल ने यह भी बताया कि केंद्र सरकार के इस जिम्मेदारी से सिर्फ गोरखपुर मण्डल ही नही ही पूर्वी उत्तर प्रदेश के बस्ती एवं आजमगढ मण्डल के तमाम जिले लाभान्वित होंगे. उन्होंने कहा कि नेपाल एवं बिहार से जुड़ने के कारण इस क्षेत्र में पशु तस्करी का ग्राफ काफी बढ़ गया है इसके लिए पुलिस एवं प्रशासन के साथ विचार विमर्श कर ठोस रणनीति बनाई जाएगी. उन्होंने कहा कि भारतीय जीव जंतु कल्याण बोर्ड के कार्यक्रमों के संचालन मे तेजी आएगी। छुट्टा पशुओं से शहर को निजात दिलाने के लिए ठोस योजना बनायी जायेगी. शहर में निःशुल्क पशु चिकित्सा केंद्र स्थापित करने, पशु कल्याण पर एक प्रशिक्षण केंद्र स्थापित करने की योजना बताई.श्री जायसवाल ने कहा कि कुत्तों की नसबंदी का कार्यक्रम चला कर के गोरखपुर शहर रैबीज रोधी मुहिम चलाई जाएगी.

4 Attachments

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz