राजनीति

गठबंधन प्रत्याशी का आरोप-सीएम के इशारे पर पुलिस ने एक दर्जन प्रधानों को अवैध हिरासत में रखा है

सपा-बसपा प्रत्याशी रामभुआल निषाद

गोरखपुर। गोरखपुर के गठबंधन प्रत्याशी रामभुआल निषाद ने आरोप लगाया है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के इशारे पर गोरखपुर की पुलिस सपा-बसपा समर्थकों को उत्पीड़ित कर रही है। गोरखपुर ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र में एक दर्जन से अधिक प्रधानों को रात में ही पुलिस उठा कर थाने ले आई है और उन्हें थाने में अवैध हिरासत में रखा गया है।

श्री निषाद ने बताया कि वह खुद खोराभार थाने पहुंच रहे हैं। उन्हांेने कहा कि छितौना, कुई, केवटलिया सहित कई गांवों के प्रधानों को पुलिस ने रात में ही उनके घर से उठा लिया और थाने लेते आई। पुलिस यह कार्य मुख्यमंत्री के इशारे पर कर रही है। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि गोरखपुर ग्रामीण के विधायक विपिन सिंह कई दिन से मतदाताओं में पैसा बांट रहे हैं। इसकी शिकायत भी की गई लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। गठबंधन प्रत्याशी ने कहा कि गोरखपुर में अपनी निश्चित हार देख मुख्यमंत्री बौखला गए हैं और सरकारी मशीनरी का उपयोग कर मतदाताओं और सपा-बसपा समर्थकों केा आतंकित करने में जुट गए है।

इसके पहले समाजवादी पार्टी की ओर से गोरखपुर में सपा समर्थकों को डराने-धमकाने का आरोप लगाते हुए चुनाव आयोग से शिकायत की गई थी। इस शिकायत में कहा गया था कि मुख्यमंत्री गोरखपुर में कैम्प किए हुए हैं और चुनाव को प्रभावित करने की कोशिश कर रहे हैं। वह अधिकारियों को निर्देश दे रहे हैं। इस शिकायत में गोरखपुर शहर के सपा पार्षद संजय यादव को झूठे मामले में गिरफतार कर जेल भेजे जाने का उल्लेख करते हुए कहा गया है कि ऐसा चुनाव को प्रभावित करने के लिए किया गया है।

सपा-बसपा गठबंधन प्रत्याशी को समर्थन देने वाले हिन्दू युवा वाहिनी भारत के अध्यक्ष सुनील सिंह ने भी कल आरोप लगाया था कि उनके एक समर्थक बबलू अग्रहरि को राजघाट पुलिस ने शांति भंग की आशंका में गिरफतार कर लिया और उनके संगठन के पदाधिकारी चंदन विश्वकर्मा-सौरभ विश्वकर्मा के घर रात में जाकर तोड़फोड़ की। उनके घर भी रात में पुलिस आई और उन्हें फर्जी एनकाउंटर की धमकी दी।

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz