Thursday, February 22, 2024
Homeसमाचारजांच दल ने दूसरे दिन भी सीवर लाइन बिछाने में हुई गड़बड़ी...

जांच दल ने दूसरे दिन भी सीवर लाइन बिछाने में हुई गड़बड़ी की जांच की

गोरखपुर। सीवर लाईन डालने के कारण नगर की हुई नारकीय स्थिति की नगर विधायक डा. राधा मोहन दास अग्रवाल द्वारा दुबारा विधानसभा में प्रश्न उठाने पर लखनऊ से आये हुए जांच दल की सघन जांच आज भी जारी रही । नगर विधायक ने खुद उपस्थित रहकर जांच दल को पीपलडाढ़ा, कूडाघाट, यादवटोला, गिरधरगंज बाजार,आवास विकास कालोनी झारखंडी, मालवीयनगर, दिव्यनगर, गोरक्षनगर, सिंघडिंया तथा इन्जीनियरिग विश्वविद्यालय तक का 3 घण्टे तक निरीक्षण कराया ।

कूडाघाट में नागरिकों ने बताया कि साल भर से जीवन नरक हो गया है। विधायक द्वारा  विधानसभा में विषय उठाने के बाद जब जांच दल की खबर आई तो कल अभियंताओं ने रातों रात गढ्ढे छिपाने का प्रयास किया । भाजपा के पूर्व मण्डल अध्यक्ष मनोज अग्रहरि तथा उद्योग व्यापार मण्डल के अध्यक्ष विशाल गुप्ता ने बताया कि उन्होंने अपने पैसे से गढ्ढे भर रास्ता आने-जाने लायक किया है।

पीपलडाढ़ा का मुख्य मार्ग को एक साल से सीवर लाईन डालकर छोड़ दिया गया । किसी भी नागरिक को कनेक्शन नहीं दिया गया । कल जल्दी-जल्दी में गढ्ढे पाटे गये । यादवटोला के लोगों ने जब विधायक निधि से बनी सीसीरोड को बर्बाद होते देखा तो काम रोक दिया लेकिन ठेकेदारों ने पूरी सड़क को छेद-छेद कर छोड़ दिया । कूडाघाट में लोगों ने दिखाया कि 5 माह सीसीरोड काट दी गई और सीवर भी नहीं डाली गई। पासी टोला में नागरिकों ने दिखाया कि जब जीना मुहाल हो गया तो उन्होंने इन्टरलाकिंग ईंट बिछाकर चलने लायक बनाई। भाजपा के वरिष्ठ नेता बल्ले निषाद तथा गुलाब चंद्र अग्रहरि ने बताया कि उन्होंने अपनी जेब से ₹ 500 खर्च करके ईंट बिछाई ।

आवास विकास कालोनी ने पत्रकार मुकेश पाण्डेय के घर के सामने निहायत घटिया और टूटे-फूटे मेनहोल देखकर नगर विधायक स्तब्ध रह गये। उन्होंने जांच दल को निर्देशित किया कि इस मेनहोल को निकाल कर उसकी जांच करायें। प्रदूषण चौराहे के पास स्थानीय पार्षद ने शिकायत की कि बहुत बेतरतीब तरीके से ऊपर-नीचे मेनहोल बनाये गये और मानक का पालन नही किया गया ।

मालवीयनगर के सुनील सिंह ने शिकायत की कि एक साल में चार बार गढ्ढे खोदे गये और सडक आने जाने के लायक नही बनाया । विभाग के जेसीबी ने कोलोनी की सारी नालियों को तोड़ डाला।  मालवीयनगर बी कालोनी में मेनहोल खूब ऊंचे लगाये थे और नागरिकों ने शिकायत की कि रोज उनकी गाड़ियां मेनहोल से टकरा रही हैं। दिव्यनगर में  वरिष्ठ भांजपा नेता शत्रुघन मिश्र का आरोप था कि सीवर लाईन डालने में नीचे गिट्टी का बिल्कुल उपयोग नहीं किया गया और सीवर सीधे मिट्टी पर डाल दी गई। दिव्यनगर में सीसीरोड को बेढंगे तरीके से काटकर छोड दी गई और सीवर भी नहीं डाली गई।

नगर विधायक दिव्यनगर में यह देखकर आश्चर्य चकित रह गये कि ठेकेदारों ने दो साल से नारकीय जीवन जी रहे नन्दानगर की सडकों को नहीं बनाया और किसी को खुश करने के लिए वे एक सडक पर गिट्टी डाल रहे थे । नगर विधायक ने जांच दल से अपनी गम्भीर आपत्ति दर्ज कराई और कहा कि यह पूरी तरह से गलत है । दो साल से खराब कर दी गई सडकों को छोडकर आर्थिक आधार पर कुछ लोगों को क्यों खुश किया गया ।

निरीक्षण के दौरान जांच दल के अधिशासी अभियंता मो सुलेमान खान,सहायक अभियंता मो वहीद सिद्दिकी तथा प्रेमचन्द एवं अवर अभियंता दिनेश कुमार मिश्र,पूर्व मण्डल अध्यक्ष मनोज अग्रहरि,क्षेत्रीय पार्षद राघवेंद्र प्रताप सिंह , उपेन्द्रनाथ सिंह उर्फ नन्हे ,बीके राय ,शत्रुघन मिश्र, देवेन्द्र पासवान आदि प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments