समाचार

होप पैनेसिया अस्पताल विवाद-बीजेपी सांसद कमलेश पासवान के खिलाफ तहरीर, सांसद ने भी दी तहरीर

गोरखपुर। शहर के छात्र संघ चौराहे पर स्थित होप पैनेसिया अस्पताल पर कब्जे को लेकर 22 जून को हुए विवाद में भाजपा सांसद कमलेश पासवान ने कैंट थाने पर अस्पताल के संस्थापक निदेशक विजय पांडेय के खिलाफ तहरीर दी तो विजय पांडेय ने सांसद के खिलाफ तहरीर दी। दोनों पक्षों नेे एक दूसरे पर मारपीट, जान से धमकी दिए जाने का आरोप लगाया है। सांसद कमलेश पासवान ने विजय पांडेय और उनके सहयोगयिों पर जाति सूचक शब्दों का प्रयोग करने और गाली देने का भी आरोप लगाया है।

उधर अस्पताल में भर्ती 22 में से 14 मरीज मंगलवार को डिस्चार्ज कर दिए गए। अभी आठ मरीज भर्ती हैं। इनमें से पांच आईसीयू और तीन इमर्जेंसी में हैं। जिला प्रशासन के निर्देश पर अब नए मरीजों की भर्ती नहीं हो रही है। सभी निदेशकों को अस्पताल पर न जाने को कहा गया है। केवल डाॅक्टर व चिकित्साकर्मी ही अस्पताल जा रहे हैं। सभी मरीजों को डिस्चार्ज करने के बाद अस्पताल पूरी तरह बंद हो जाएगा।

अस्पताल के निदेशकों के बीच विवाद को लेकर कैंट थाने में अब तक तीन तहरीर दी जा चुकी है। पहली तहरीर डा. प्रमोद सिंह की ओर से घटना के दिन ही दी गयी थी। इस तहरीर में उन्होंने विजय पांडेय और उनके सहयोगियों पर अस्पताल में आकर मारपीट करने, मरीजों का इलाज रोकने और 35 हजार रूपए लूट लेने का आरोप लगाया है।

मंगलवार को बासगांव के भाजपा सांसद कमलेश पासवान की तरफ से थाने में तहरीर दी गयी। इस तहरीर में उन्होंने कहा है कि होम पैनेसिया के निदेशक डा. प्रमोद सिंह चार-पंच वर्षों से अस्पताल संचालित कर रहे हैं। उनके पास 65 फीसदी से अधिक की हिस्सेदारी है। उन्होंने अस्पताल में संसाधनों की कमी दूर करने और बेहतर संचालन के लिए हमसे सहयोग मांगा। उन्होंने कानूनी तौर पर अपने हिस्से के शेयर मुुढे व अन्य लोगों को स्थानान्तरित करते हुए मुझे निदेशक बनाया। सोमवार की दोपहर विजय पांडेय, राम निवास गुप्ता, अशोक मद्देशिया, रवि प्रकाश श्रीवास्तव, गोविंद प्रसाद, आनंद सिंह सहित 40-50 लोग अस्पताल के मुख्य द्वार पर आए और बवाल करने लगे। हमने दोनों पक्षों केा समझाने की कोशिश की तो उन लोगों ने मुझे जाति सूचक शब्दों का प्रयोग करते हुए गाली दी जान से माने की धमकी दी। डा. प्रमोद सिंह से मारपीट की गयी। इस घटना की वीडिये रिकार्डिंग भी है।

विजय पांडेय द्वारा दी गयी तहरीर में कहा गया है कि वे अन्य निदेशकों के साथ अस्पताल गए थे। तभी वहां आए सांसद कमलेश पासवान ने भाग जाने और जान से मारने की धमकी दी। कुछ देर बाद डा. प्रमोद सिंह सहित कई लोग अस्पताल के अंदर से आए ओर ललकारते हुए मारने पीटने लगे। मेरी सोने की चेन, पांच हजार रूपए लूट लिए। उन्होंने कहा कि उन्हें जान का खतरा है।

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz