स्वास्थ्य

जुलाई माह के 15 दिन में महराजगंज में ढूंढे गए 86 टीबी मरीज

महराजगंज। कोरोना संक्रमण काल के बीच चलाए गए टीबी रोगी खोजी अभियान में महराजगंज ने सूबे में प्रथम स्थान प्राप्त किया है। जुलाई माह के 15 दिन के भीतर सरकारी प्रयासों से 86 टीबी रोगियों को चिन्हित किया गया। इसी के साथ उन सभी मरीजों का उपचार भी शुरू कर दिया गया है।

जिला क्षय रोग अधिकारी/ अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. विवेक श्रीवास्तव ने बताया कि जुलाई माह के 15 दोनों में 132 संभावित लोगों की स्क्रीनिंग कर 86 टीबी चिन्हित कर लिए गए हैं।
उन्होंने बताया कि जुलाई माह में 263 संभावित मरीजों को चिन्हित करने का लक्ष्य निर्धारित था, जबकि मात्र 15 दिनों में 132 लोगों की स्क्रीनिंग कर 86 टीबी रोगियों को चिन्हित कर लिया गया।
यह सब संभव हो सका टीबी रोगी खोजी अभियान से जुड़े कर्मियों की सतर्कता एवं सक्रियता से । सभी को प्रशिक्षण में कोरोना एवं टीबी मरीजों के बीच विभेद करने को तरीका बताया गया था, जिसका नतीजा रहा कि महराजगंज जनपद ने कोरोना काल 15 दिनों में 86 टीबी रोगियों को खोज निकाला।

एसीएमओ ने बताया कि जिला क्षय केन्द्र पर सीबीनॉट जांच की सुविधा उपलब्ध है। जिससे टीबी रोगियों को खोजने में सहायता मिलती है।साथ ही साथ उपचार के प्रारंभ में ही जांच कर लिया जाता है कि बैक्टीरिया टीबी की दवाओं से प्रतिरोधी तो नहीं है।

टीबी रोग के लक्षण

-14 दिनों से ज्यादा का बुखार
– सांस का फूलना।
-सीने में दर्द रहना ।
-खाँसी के साथ मुंह से खून आना
-भूख कम लगना।
-वजन का घटना।
-बच्चों में वजन का न बढ़ना।
-रात में पसीना आना।

1306 टीबी रोगियों का चल रहा इलाज

जिला क्षय रोग अधिकारी ने बताया वर्तमान समय में जिले में कुल 1306 टीबी रोगियों को इलाज चल रहा है। उन्होंने बताया कि वर्ष 2019 में कुल 3492 टीबी रोगी चिन्हित किए गए थे, इन सभी की एचआईवी जांच भी हुई थी। वर्ष 2020 में 1188 टीबी मरीज चिन्हित किए गए।

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz