समाचार

कुशीनगर एयरपोर्ट पर एयरफोर्स का बी-737 विमान उतरा, उड़ान जल्द शुरू होने की उम्मीद 

कुशीनगर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बेड़े में शामिल भारतीय वायु सेना के विमान बी-737 ने सोमवार को कुशीनगर एयरपोर्ट पर लैंडिंग की। आधिकारिक रूप से लैंडिंग की वजह पीएम की सुरक्षा को लेकर फीड बैक लेना बताया गया। दोपहर 11.55 बजे लैंड किया विमान 12.14 पर टेकऑफ कर गया। यानी कुल 19 मिनट रुककर विमान के पायलट दल ने सुरक्षा डेटा तैयार किया।

एयरपोर्ट सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार देश भर के सभी हवाईअड्डों का सुरक्षा प्रबंधन की दृष्टि से पीएमओ की सुरक्षा में शामिल एजेंसियों के पास फीड बैक या डेटा मौजूद रहता है। ताकि किसी आपात स्थिति में पूर्व से मौजूद मौजूद जानकारी के आधार पर त्वरित एक्शन लिया जा सके। चूंकि कुशीनगर बिल्कुल नया इंटरनेशनल एयरपोर्ट बना है। एजेंसियों के पास डेटा नही था। इसलिए डेटा तैयार करने के क्रम में विमान ने लैंड व टेकऑफ किया। विमान के चालक दल व सुरक्षा दल के सदस्यों ने एटीसी, रन वे, टर्मिनल बिल्डिंग, एप्रन, अग्निशमन, नेविगेशन आदि की जानकारी ली। इस दौरान मीडिया को सुरक्षा कारणों से अंदर जाने रिकार्डिंग आदि की अनुमति नही दी गई।

इस सम्बंध एयरपोर्ट निदेशक ए के द्विवेदी ने बताया कि एयरफोर्स का सुरक्षा कारणों से उतरा था। यह देश भर के हवाईअड्डों की जानकारी रखने के क्रम में रूटीन उड़ान थी।

कुशीनगर के एसडीएम ज्वाइंट मजिस्ट्रेट पूर्ण बोरा ने बताया कि एयरपोर्ट के बाहर के कार्य तेजी पर है। एयरपोर्ट टू फ़ोरलेन का कार्य प्रगति पर है। विस्तार की भूमि का मुआवजा बांटा जा रहा है।

कुशीनगर एयरपोर्ट पर सोमवार को प्रधानमंत्री की एयर फ्लीट में शामिल विमान के लैंडिंग व टेक आफ के बाद नव निर्मित एयरपोर्ट से जल्द घरेलू व अंतर्राष्ट्रीय उड़ान सेवा शुरू होने की उम्मीद बढ़ गई है।

बीते साल 24 जून को पीएम की अध्यक्षता में हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल ने कुशीनगर एयरपोर्ट को इंटरनेशनल एयरपोर्ट को दर्जा दिया था। एयरपोर्ट को भारतीय विमानपत्तन को हैंडओवर कर दिया गया। राज्य सरकार ने अपने खाते के कार्यों जैसे सड़क, बिजली, सुरक्षा, अग्निशमन, भूमि विस्तार, हाट लाइन बिछाने आदि के कार्य तेज किये। इसी दौरान प्रधानमंत्री के पहल पर श्रीलंका में भारतीय उच्चायुक्त गोपालकृष्ण गोखले ने श्रीलंका के प्रधानमंत्री से मिलकर उद्घाटन उड़ान के लिए आमंत्रित किया। तय हुआ कि श्रीलंका से 180 सदस्यीय बौद्ध भिक्षु का दल उद्घाटन उड़ान से आएगा। परन्तु कोविड-19 के प्रकोप के कारण अनेक राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय प्रतिबन्धों व राजनीतिक कारणों से उद्घाटन उड़ान की तिथि आती व टलती रही। वर्तमान में एयरपोर्ट की न्यू टर्मिनल बिल्डिंग, एटीसी, रन वे, एप्रन, विद्युत, अग्निशमन समेत सभी कार्य पूरे हो चुके हैं।

 

 

About the author

गोरखपुर न्यूज़ लाइन

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz