राज्य

संविदा एएनएम की मांगों पर एनएचएम मिशन निदेशक से मिला प्रतिनिधिमण्डल

लखनऊ। संविदा एएनएम के गृह जनपद ट्रांसफर, एएनएम को पेट परीक्षा से मुक्ति, 25,000 रुपये वेतन, नियमित एएनएम की तरह वित्तीय अधिकार सहित कई अन्‍य सुविधाओं पर 10 जुलाई को राष्‍ट्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मिशन की मिशन निदेशक अपर्णा उपाध्‍याय ने एएनएम संविदा संघ के प्रतिनिधिमंडल से बातचीत की। मिशन निदेशक ने बातचीत में सभी मांगों पर कार्यवाही को आगे बढ़ाने पर सहमति जतायी।

बातचीत में राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के प्रदेश महामंत्री अतुल मिश्रा के नेतृत्व में इस प्रतिनिधिमण्डल में संयुक्त राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन कर्मचारी संघ उ प्र के प्रदेश महामंत्री योगेश उपाध्याय, एएनएम संविदा संघ की प्रदेश संयोजक प्रेमलता पांडे, प्रदेश महामंत्री सीमा शर्मा, स्वाती त्रिवेदी ( हरदोई), वंदना देवी (संत कबीर नगर), संरक्षक एएनएम संविदा संघ सूर्य प्रकाश पांडेय शामिल रहे।

मुलाकात के दौरान मिशन निदेशक ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार की मंशा अनुसार सभी एएनएम काम कर रही हैं।उन्‍होंने वेक्सिनेशन में अग्रणी भूमिका निभाकर प्रदेश को नंबर एक बनाया है। उन्‍होंने कहा कि पेट परीक्षा मुक्ति, वेतन 25000 रुपये करने की कार्यवाही अन्य राज्यों के आधार पर गृह जनपद ट्रांसफर के लिए वरीयता अनुसार किए जाने के लिए शासन स्तर पर वार्ता की जाएगी।

उन्‍होंने कहा कि चाइल्ड केयर लीव का प्रावधान पर निर्णय अन्य राज्यों के आधार पर अध्ययन कर किया जाएगा जबकि नियमित ए एन एम की भांति वित्तीय अधिकार, अनटाइटल्ड फंड सहित अन्य लाभ मिलेंगे, संविदा एएनएम को मोबलाइजेशन राशि प्रदान की जाएगी। उन्‍होंने आश्‍वासन दिया कि सभी को सुरक्षा के लिए 50,00,000 रुपये का बीमा किया जाए, इसका प्रस्ताव तैयार होगा। इसके अतिरिक्‍त एएनएम को गोल्डेन कार्ड एवं स्वास्थ्य सुविधा कार्ड तैयार कराए जाएंगे फिर भी यदि कोई भी एएनएम बिना किसी गलती के निष्कासित की गयी हों या उनके खिलाफ कार्रवाई की गयी हो तो वे अपनी पुनः सेवा बहाली के लिए आवेदन करें। निदेशक ने कहा कि कोविड-19 प्रोत्साहन राशि 25 प्रतिशत मिले इस पर पुनः प्रयास होंगे, साथ ही वेतन विसंगति दूर करने में महिला प्रतिनिधि को शामिल किया जाएगा तथा वेतन वृद्धि भी होगी।

कर्मचारियों की ओर से मीटिंग का नेतृत्व कर रहे अतुल मिश्रा ने कहा कि मिशन निदेशक ट्रांसफर के लिए पत्रावली शासन में भेजें। जहां-जहां राज्‍य कर्मचारी संयुक्‍त परिषद द्वारा पैरवी की आवश्यकता होगी वहां पर संविदा एएनएम को पूर्ण संरक्षण दिया जायेगा।

एएनएम संविदा संघ की प्रदेश संयोजक  प्रेमलता पांडे ने कहा कि उम्मीद के अनुसार वार्ता सफल रही। लगभग 3 घंटे वार्ता में समस्त समस्याओं के समाधान के लिए आवश्यक प्रभावी कार्यवाही होगी तथा एक-एक कर कार्यवाही की प्रगति सामने दिखेगी। प्रदेश महामंत्री सीमा शर्मा, वंदना, स्वाति ने भी विस्तार से अपनी बात रखी। इस मीटिंग की कार्यवृत्ति बाद में जारी होगी।

About the author

गोरखपुर न्यूज़ लाइन

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz