समाचार

राज्यपाल से मिल कुलपति के खिलाफ कार्यवाही करने और उन्हे वापस बुलाने की मांग करेगा गुआक्टा 

गोरखपुर। गोरखपुर विश्वविद्यालय सम्बद्ध महाविद्यालय शिक्षक संघ (गुआक्टा) की आज बेतियाहता के सिद्धि लान में मे हुई बैठक मे गुआक्टा पदाधिकारियों एवं शिक्षकों के साथ दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय गोरखपुर कुलपति के अपमानजनक एवं अमर्यादित आचरण की सर्वसम्मति से निन्दा की गई और विश्वविद्यालयी परीक्षा के पूर्ण बहिष्कार व कुलपति के खिलाफ असहयोग आन्दोलन को जारी रखने का निर्णय लिया गया। बैठक मे सर्वसम्मति से यह भी निर्णय लिया गया कि कुलपति के इस कृत्य को राज्यपाल श्रीमती आनन्दी बेन के समक्ष रखा रखा जायेगा और महामहिम से कुलपति को दण्डित करने व वापस बुलाने की मांग की जाएगी।

बैठक मे कहा गया कि स्नातक स्तर पर शोध निर्देशन का अधिकार जिसे कार्यपरिषद ने 20.3.2020 को पारित किया था, उसे कुलपति अविलंब कुलाधिपति के पास भेजें। सर्वसम्मति से कार्यकारिणी के सदस्यों ने गुआक्टा को यह अधिकार प्रदान किया कि इस सन्दर्भ मे गुआक्टा पदाधिकारी राज्यपाल महोदया से समय मांगकर सन्दर्भित प्रकरण से अवगत कराएं।

बैठक मे निर्णय लिया गया कि विश्वविद्यालय स्तर पर सहायक प्राध्यापक जो किन्हीं कारणों से अभी तक शोध नहीं कर पाये और शोध करना चाहते है,उन्हें तीन बर्ष के अवकाश की बाध्यता से मुक्त किया जाय। यदि विश्वविद्यालय स्तर पर यह कार्य कुलपति नहीं करते है तो हमे इसके लिए राज्यपाल महोदया से वार्ता कर इसका निस्तारण कराया जाय।

सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि महाविद्यालयों मे सी बी सी एस प्रणाली लागू न की जाय क्योंकि महाविदयालयो के पास उस प्रणाली को लागू करने हेतु भौतिक एवं मानवीय संसाधन उपलब्ध नहीं है।

बैठक मे कुलपति द्वारा गुआक्टा प्रतिनिधियों एवं शिक्षकों के साथ किये गये दुर्व्यवहार के विरोध मे लोकतांत्रिक तरीक़े से मशाल जुलूस, काली पट्टी, धरना प्रदर्शन तथा क्रमिक अनशन करने हेतु गुआक्टा कार्यकारिणी को पूर्ण अधिकार प्रदान किया गया। गुआक्टा कार्यकारिणी अतिशीघ्र इस सम्बंध मे अपना कार्यक्रम निश्चित करेगी  ।बैठक मे यह भी निर्णय हुआ कि कुलपति का यह आदेश कि महाविदयालयी शिक्षक जब कुलपति से मिलने आये तो वे अपने प्राचार्य से आने का आदेश लेकर आये ,इस आदेश को गुआक्टा स्वीकार नहीं करती। जिस प्राचार्य और प्रबंधक से हमारा वैचारिक मतभेद रहता हम उससे आदेश लेकर तो हम कुलपति से मिल चुके। शिक्षकों का जब भी कोई काम रहेगा गुआक्टा कुलपति से मिलेगा।

बैठक मे उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय महाविदयालयी शिक्षक संघ के संयुक्त मंत्री डां श्रीभगवान सिंह, गुआक्टा के पूर्व अध्यक्ष डॉ श्रीश मणि, गुआक्टा के पूर्व उपाध्यक्ष डां आमोद कुमार राय, देवरिया जनपद के अध्यक्ष डां विनय रावत, गोरखपुर जनपद महाविद्यालय शिक्षक संघ के अध्यक्ष डां रविंद्र आनंद ,मंत्री डां रामचेत यादव, संयुक्त मंत्री डां राकेश प्रताप सिंह,  भाटपाररानी के डां राम अवतार वर्मा, डॉ महेन्द्र, लार से डां वी के सिंह, वी आर डी देवरिया के डां राजकुमार यादव, डॉ मैथिली रमन, बरहज से डॉ विजय प्रकाश पाण्डेय, रूद्रपुर से डॉ आशुतोष सिंह, चौरीचौरा से डॉ महेंद्र पाण्डेय, डी ए वी गोरखपुर से डॉ कुलदीप द्विवेदी, सेण्ट एण्डयूज से डॉ सुशील राय , डॉ विजय प्रकाश श्रीवास्तव, बडहलगंज से डां त्रिपुरेश त्रिपाठी, डॉ अजय मिश्रा, कुशीनगर से डॉ निरंकार त्रिपाठी,  भटवली से डॉ चन्दे्रश पाण्डेय, डॉ मोहित, सिकरीगंज से व्यासुदीन , दिग्विजय नाथ पी जी कालेज से डॉ विवेक शाही, डॉ सुरेंद्र चौहान, डॉ अवधेश शुक्ला एवं गुआक्टा कार्यकारिणी के डॉ लोकेश त्रिपाठी, फुफुक्टा प्रतिनिधि डॉ डां रविन्द्र कुमार गौतम, फुफुक्टा प्रतिनिधि एवं संयुक्त मंत्री डॉ अनूप कुमार श्रीवास्तव ने अपने विचार प्रस्तुत किये।

इस बैठक की अध्यक्षता डॉ के डी तिवारी एवं संचालन डॉ धीरेंद्र सिंह गुआक्टा महामंत्री ने किया।

About the author

गोरखपुर न्यूज़ लाइन

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz