Monday, July 4, 2022
Homeसमाचार कोड़रा ग्रांट पहुंचे अखिलेश यादव, हाईकोर्ट के जज की निगरानी में जांच...

 कोड़रा ग्रांट पहुंचे अखिलेश यादव, हाईकोर्ट के जज की निगरानी में जांच की मांग की

सिद्धार्थनगर। सदर थाना क्षेत्र के कोड़रा ग्रांट गांव के इस्लामनगर में पुलिस की दबिश में गोली चलने से महिला की मौत के मामले में बुधवार को पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि महिला की मौत मामले की जांच हाईकोर्ट के जज की निगरानी में होनी चाहिए। जिस पुलिस पर सुरक्षा का भरोसा और न्याय की उम्मीद रहती है, वहीं पुलिस जान लेने लगी है। पूरे प्रदेश में पुलिसिया उत्पीड़न की घटनाएं बढ़ गई है।

सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि गोरखपुर में व्यापारी की हत्या, ललितपुर में थाने में बलात्कार, चंदौली में दबिश के दौरान बेटी की पीटकर हत्या जैसे कई मामले पुलिस के कारनामे उजागर कर रहे हैं। देश में कस्टोरियल डेथ व फेक इनकाउंटर और महिला आयोग की नोटिस मामले में उत्तर प्रदेश नंबर वन बन गया है। ठोको नीति से पुलिस भी अपमानित हो रही है। बांटो और राज करो की अंग्रेजी नीति पर भाजपा चल रही है।

उन्होंने कहा कि भाजपा जाति के आधार पर काम कर रही है, जबकि वह सपा पर इस तरह का आरोप लगाती रही है। एक देश एक राशन की न‌ीति की जगह एक देश एक पूंजीपति के आधार पर वर्तमान सरकार काम कर रही है। भाजपा सिर्फ मदरसो को ही नहीं, भारतीय भाषा संस्कृत भी समाप्त करने पर आमदा है।

सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि इस्लामनगर में पीड़ित के घर शादी थी। बेटा बाहर से कमा कर घर लौटा था। पुलिस ने दबिश डाली और गोली लगने से महिला की मौत हो गई। पुलिस कोई भी कहानी बना सकती है। जब इसकी जांच होगी तो पुलिस जेल में होगी। परिवार ने न्याय की मांग की है।

उन्होंने मृतका के पति, बेटों समेत अन्य परिजनों से मिलकर उन्हें ढांढस बंधाते हुए कहा कि बहुत ही दुखद घटना है। पीड़ित परिजन के बेटी की शादी में भी मदद का आश्वासन देते हुए उन्होंने कहा कि आपके साथ समाजवादी पार्टी खड़ी रहेगी।

अखिलेश यादव इस्लामनगर में बुधवार शाम 3.53 बजे पहुंचे और 4.26 तक 32 मिनट पीड़ित परिवार के घर रहे। उनके साथ पूर्व विधानसभा अध्यक्ष माता प्रसाद पांडेय, विधायक सैय्यदा खातून, जिलाध्यक्ष लालजी यादव, पूर्व विधायक विजय पासवान, मोनू दुबे, उग्रसेन सिंह, सुरेश यादव व चिनकू यादव, विजय यादव, जुबैदा चौधरी मौजूद रहे।

कोड़रा ग्रांट के इस्लामनगर टोले में पुलिस की दबिश के दौरान गोली लगने से रोशनी नामक महिला की मौत हो गई थी। मामले में पुलिस पर ही गोली चलाने का आरोप लगने लगा था। जिसके बाद पुलिस ने मामले का खुलासा करते हुए जितेंद्र यादव नामक युवक पर गोली मार महिला की हत्या करने का आरोप लगाते हुए जेल भेज दिया। इसके बाद भी मामला ठंडा नहीं हुआ और बुधवार को सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष, पूर्व मुख्यमंत्री व नेता विरोधी दल अखिलेश यादव के पीड़ित परिजनों से मिलने के बाद एक बार फिर से मामला गर्मा गया।

सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के आगमन की सूचना पर मौके पर जा रहे सपा कार्यकर्ताओं को रास्ते में ही रोक दिया गया था। इससे खुर्शीद अहमद, सरफराज भ्रमर समेत कई कार्यकर्ता मौके पर पहुंच नहीं पाए। वहां से लौटने के बाद सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पार्टी के जिला कार्यालय पर भी गए। जहां कार्यकर्ताओं के साथ बातचीत कर उनका हाल जाना।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments